अक्टूबर के मुकाबले नवंबर माह में मिले अधिक रोगी

अक्टूबर के मुकाबले नवंबर माह में मिले अधिक रोगी

इसे अनलॉक-5 की छूट का परिणाम कहें अथवा त्योहारों की खुमारी की लोग नवंबर माह में लापरवाह हो गए हैं। नवंबर माह में कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि होने अब शासन ने कुछ पाबंदी लगा दी है। आने वाले दिनों में इसके सार्थक परिणाम दिखाई देने की संभावना बन गई है।

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 06:37 PM (IST) Author: Jagran

जेएनएन, बिजनौर। इसे अनलॉक-5 की छूट का परिणाम कहें अथवा त्योहारों की खुमारी की लोग नवंबर माह में लापरवाह हो गए हैं। नवंबर माह में कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि होने अब शासन ने कुछ पाबंदी लगा दी है। आने वाले दिनों में इसके सार्थक परिणाम दिखाई देने की संभावना बन गई है।

नवंबर माह में अनलॉक-5 में शासन ने कई छूट दी। छूट मिलने और त्योहारी सीजन होने के कारण लोग ने लापरवाही की पराकाष्ठा को भी पार कर दिया। बाजारों में बेहद भीड़ दिखाई देने लेगी। जगह-जगह जाम लगने लगे। अपवाद को छोड़ दिया जाए तो व्यापारी हो अथवा ग्राहक प्राय: सभी ने मास्क को तिलांजलि दे दी। कुछ ही लोग मास्क लगाए दिखाई देते थे। इसका असर यह हुआ कि अक्टूबर के मुकाबले नवम्बर माह में कोरोना संक्रमितों की संख्या में वृद्धि होने लगी। मरीज बढ़े तो शासन ने फिर से सख्ती बरतनी शुरू कर दी। अब जहां धरना प्रदर्शन हो अथवा शादी समारोह सभी प्रकार के कार्यक्रमों में सौ लोगों के शामिल होने की पाबंदी लगा दी गई है। शासन ने जिला स्तर पर डीएम को रात्रिकालीन क‌र्फ्यू लगाने की परमिशन भी दे दी है।

जिले में लिए जा रहे रैंडम नमूने

अधिक मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग भी सचेत हो गया। नवंबर माह में टैंपू चालक, मिष्ठान विक्रेता, ठेले वाले, मुख्य बाजार, बैराज समेत कई स्थानों पर अभियान चला कर रैंडम नमूने लिए गए।

रात्रि क‌र्फ्यू की कोई योजना नहीं

जिलाधिकारी रमाकांत पांडे का कहना है कि जिले में मरीजों की संख्या बढ़ी है, लेकिन अभी तक रात्रि क‌र्फ्यू की कोई योजना नहीं है। अलबत्ता जिले में धारा 144 लगा दी गई है।

फिल्म देखने पहुंच रहे कम लोग

जिला मुख्यालय पर मात्र एक मॉल है। जिसमें सिनेमा हाल है। कोरोना का लोगों के सिर पर इस कदर तारी है कि सिनेमा हाल में फिल्म देखने कम ही लोग पहुंच रहे हैं। शासन ने निर्धारित संख्या से आधे लोगों की परमिशन दे रखी है, लेकिन इन दिनों बामुश्किल 25 प्रतिशत लोग फिल्म देखने पहुंच रहे हैं।

मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना

जिले में मास्क नहीं लगाने वालों पर पुलिस कहीं सख्ती बरत रही है तो कहीं समझ-बुझाकर लोगों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। पुलिस ने लोगों को निशुल्क मास्क भी बांटे हैं। दूसरी और एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि अब तक जिले में मास्क नहीं लगाने वालों पर करीब सवा करोड़ का जुर्माना लगाया जा चुका है। मास्क नही लगाने वालों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

--------------

माहवार मिले संक्रमितों एवं मौत की संख्या

माह------संक्रमित------मौत

जुलाई-------721-------11

अगस्त-----1051-------13

सितम्बर----1301-------22

अक्टूबर-----427-------10

नवम्बर-----485-------02

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.