अब तो लापरवाही छोड़ दीजिए, सतर्कता जरूरी

अब तो लापरवाही छोड़ दीजिए, सतर्कता जरूरी

कोरोना कहर बरपा रहा है लेकिन कुछ लोग हैं कि सुधरने का नाम नहीं ले रहे। ऐसे लोगों को न तो अपनी चिता है और ना ही घर परिवार व समाज की। पीड़ितों को हायर सेंटर रेफर किया जा रहा है। जहां उन्हें आइसीयू एवं वेंटीलेटर पर रखा जा रहा है लेकिन बाजारों में दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी का खुला उल्लंघन हो रहा है।

JagranWed, 14 Apr 2021 03:01 AM (IST)

जेएनएन, बिजनौर। कोरोना कहर बरपा रहा है, लेकिन कुछ लोग हैं कि सुधरने का नाम नहीं ले रहे। ऐसे लोगों को न तो अपनी चिता है और ना ही घर परिवार व समाज की। पीड़ितों को हायर सेंटर रेफर किया जा रहा है। जहां उन्हें आइसीयू एवं वेंटीलेटर पर रखा जा रहा है, लेकिन बाजारों में दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी का खुला उल्लंघन हो रहा है।

जिले में लगातार कोरोना संक्रमितों के मिलने का क्रम जारी है। अप्रैल माह के 12 दिनों में 442 संक्रमित मिल चुके हैं। भले ही जिले में अभी नाइट क‌र्फ्यू लागू नहीं हुआ। यदि स्थिति बिगड़ी तो किसी भी दिन नाइट क‌र्फ्यू लगने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। अब नवरात्र और रमजान भी शुरू हो रहे हैं। ऐसे में भी यदि लापरवाही की गई तो परिणाम बेहद घातक हो सकते हैं।

दूसरों की जिदगी खतरे में डाल रहे लोग

लोगों की लापरवाही का आलम यह है कि बाजारों में कोरोना की गाइड लाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। लोग न तो मास्क लगा रहे हैं और न ही शारीरिक दूरी का ही पालन कर रहे है। मंगलवार से नवरात्र शुरू हो गये हैं, जबकि बुधवार से रमजान शुरू हो रहे हैं। नवरात्र में जहां देवी मंदिरों में भीड़ रहती है। वहीं, रमजान के दिनों में मस्जिदों में सामूहिक रूप से तराबीह पढ़ी जाती है। ऐसे में यदि कोरोना की गाइड लाइन का पालन नहीं किया गया, तो स्थिति गंभीर हो सकती है।

बाजारों में नहीं हो रहा गाइड लाइन का पालन

मंगलवार को नवरात्र का पहला दिन है। नवरात्र की तैयारी के लिए आवश्यक सामान की खरीददारी को सोमवार से ही भीड़ उमड़ने लगी थी। मंगलवार को भी बेहद भीड़ रही, लेकिन बाजारों में अधिकांश लोग बिना मास्क लगाये घूम रहे रहे हैं। शारीरिक दूरी की तो उन्हें परवाह ही नहीं है। दुकानदार हो अथवा ग्राहक अधिकांश को कोरोना की गाइड लाइन का पालन करने की चिता नहीं है।

पुलिस की भी कोई परवाह नहीं

लापरवाह लोगों को पुलिस की भी परवाह नहीं है। पुलिस मास्क नहीं लगाने पर चालन कर रही है। लोगों से सख्ती भी बरत रही है। बावजूद इसके कई बार लोग पुलिस के सामने से ही बिना मास्क लगाए ही गुजर जाते हैं। दुकानों, माल, रेस्टोरेंट व होटलों में पूरी तरह से गाइडलाइन का उल्लंघन हो रहा है। पुलिस ने मंगलवार को भी 150 से अधिक लोगों का मास्क नहीं लगाने पर चालान किया।

शारीरिक दूरी, मास्क है जरूरी

वरिष्ठ फिजीशियन डा. राहुल विश्नोई का कहना है कि जागरूकता से ही कोरोना को पराजित किया जा सकता है। घर से निकलते समय मास्क का प्रयोग करें। शारीरिक दूरी का पालन करें। भीड़ का हिस्सा न बने। लोगों से दो गज की दूरी से बात करें। बार-बार साबुन से हाथ धोएं अथवा सैनीटाइजर से हाथ साफ करें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.