निर्माणाधीन मेडिकल कालेज क्षेत्र में बन रहा हेलीपैड

किरतपुर क्षेत्र के ग्राम मधुसूदनपुर देवीदास में निर्माणाधीन मेडिकल कालेज के शिलान्यास और जनसभा की तैयारी युद्धस्तर पर की जा रही है। मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर उतारने के लिए हेलीपैड जनसभा के लिए मंच और जनसमूह को बैठाने के लिए मैदान को समतल किया किया जा रहा है। इस को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सैकड़ों श्रमिक और कई जेसीबी मशीनें लगी हुई है।

JagranSat, 18 Sep 2021 10:32 PM (IST)
निर्माणाधीन मेडिकल कालेज क्षेत्र में बन रहा हेलीपैड

जेएनएन, बिजनौर। किरतपुर क्षेत्र के ग्राम मधुसूदनपुर देवीदास में निर्माणाधीन मेडिकल कालेज के शिलान्यास और जनसभा की तैयारी युद्धस्तर पर की जा रही है। मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर उतारने के लिए हेलीपैड, जनसभा के लिए मंच और जनसमूह को बैठाने के लिए मैदान को समतल किया किया जा रहा है। इस को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सैकड़ों श्रमिक और कई जेसीबी मशीनें लगी हुई है। उधर वीवीआइपी की सुरक्षा की दृष्टि से चिकित्सकों की दो टीमें तैयार की गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकाप्टर 21 सितंबर को ग्राम मधुसूदनपुर देवीदास में उतरेगा। मुख्यमंत्री मेडिकल कालेज का शिलान्यास करने के बाद जनसभा को संबोधित करेंगे। शिलान्यास एवं सभा स्थल राष्ट्रीय राजमार्ग से पर स्वाहेड़ी उपकेंद्र से करीब तीन किलोमीटर जंगल है। आवाजाही के लिए तीन किलोमीटर की इस सड़क पर काम शुरू हो गया है। इस रास्ते और मैदान को समतल करने के लिए कई जेसीबी लगी हुई है। लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता योगेंद्र कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिये पंडाल एवं हेलीपैड बनाने का काम चल रहा है। चिकित्सकों की दो टीमें रही तैनात

सीएम के प्रस्तावित दौरे के लिए सुरक्षा की दृष्टि से दो टीमें गठित की गई। पहली टीम में पैथोलाजिस्ट डा. संजय कुमार शंकर, आर्थोसर्जन डा. संजय कुमार, फिजिशियन डा. आरएस वर्मा, एनेस्थेटिक डा. एफसी वर्मा, चीफ फार्मासिस्ट एसके अमोली, लैब टेक्निशियन, एमएसएन पुष्पेंद्र (मेल स्टाफ नर्स), वार्डब्वाय दिनेश को शामिल किया गया है। टीम के साथ लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस रहेगी। इस एंबुलेंस के साथ राकेश कुमार रहेंगे। वहीं दूसरी टीम में चिकित्साधिकारी डा. आशीष चौधरी, फार्मासिस्ट विनोद, मेल स्टाफ रविशंकर सुबैल, वार्ड ब्वाय आशीष, स्वीपर अशोक को शामिल किया गया है। टीम का नोडल अधिकारी डा. देवेंद्र को बनाया गया है। खाद्य पदार्थो की भी होगी जांच

वहीं खाद्य एवं पेय पदार्थों की शुद्धता की जांच को खाद्य सुरक्षा अधिकारी यज्ञदत्त आर्य रहेंगे। इसका नोडल अधिकारी डा. शैलेश जैन का बनाया गया है। सेफ हाउस पर सर्जन डा. नरेश जौहरी, फार्मासिस्ट तेजपाल, खाद्य सुरक्षा अधिकारी तेजबहादुर, मेल स्टाफ नर्स ललित सैनी, वार्ड ब्वाय अर्जुन सिंह को रखा गया है। टीम का नोडल अधिकारी एसीएमओ पीआर नायर को बनाया गया है।

सीएमएस डा. अरुण पांडेय ने बताया कि सभी टीमों में एंबुलेंस, चिकित्सकों की टीम जीवनरक्षक दवाओं व उपकरणों एवं मुख्यमंत्री के रक्तसमूह एबी पाजिटिव के साथ तैनात रहेंगी। एंबुलेंस चालक अपनी एएलएस (लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस) लेकर 20 सितम्बर की सुबह को पुलिस लाइन पहुंचे, ताकि उनका एंटी सेबोटाज चैकिग एवं तकनीकी परीक्षण कराया जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.