भीषण गर्मी में पांच हजार लोग पानी को तरसे

बिजनौर शहर की पॉश कालोनियों में शुमार करीब 25 एकड़ भूमि में फैली आवास विकास कालोनी के लोग पिछले पांच दिनों से पानी की एक-एक बूंद को तरस रहे हैं। कालोनी के दोनों ट्यबवैल फेल होने से पेयजल संकट गहरा गया है। शिकायत के बावजूद आवास विकास परिषद ने कालोनी वासियों की समस्या का निस्तारण नहीं किया है।

JagranWed, 22 May 2019 10:22 PM (IST)
भीषण गर्मी में पांच हजार लोग पानी को तरसे

बिजनौर: शहर की पॉश कालोनियों में शुमार करीब 25 एकड़ भूमि में फैली आवास विकास कालोनी के लोग पिछले पांच दिनों से पानी की एक-एक बूंद को तरस रहे हैं। कालोनी के दोनों ट्यबवैल फेल होने से पेयजल संकट गहरा गया है। शिकायत के बावजूद आवास विकास परिषद ने कालोनी वासियों की समस्या का निस्तारण नहीं किया है। लोगों के निवेदन पर पालिका परिषद की चेयरपर्सन ने कालोनीवासियों की सुविधा के लिए मंगलवार को चार टैंकर पानी की व्यवस्था की।

नगर से सटी आवास विकास कालोनी में पांच हजार से अधिक लोग निवास करते हैं। आवास विकास परिषद ने कालोनीवासियों की सुविधा के एक ओवर हैड टैंक व दो ट्यूबवैल बनवा रखे हैं। हालत यह है कि दोनों ट्यूबवैल आये दिन खराब ही रहते है। इस कारण भीषण गर्मी में कालोनीवासियों को पानी को तरसना पड़ रहा है। जिन घरों में समबर्सेबिल लगा हुआ है, लोग उनके घरों से पीने के लिए पानी ढोने को मजबूर है। पीने के पानी का तो किसी तरह इंतजाम कर लेते है लेकिन कपड़े धोने एवं अन्य कामों के लिए पानी का संकट बरकरार है।

नगरपालिका से मिला चार टैंकर में पानी

आवास विकास निवासी कर्नल विजय पाल सिंह चौधरी बताते हैं कि लगातार पानी के संकट के बावजूद आवास विकास परिषद ने इस ओर ध्यान भी देना मुनासिब नहीं समझा। मंगलवार को कालोनीवासियों ने पालिका प्रशासन से पानी के लिए निवेदन किया। कालोनीवासियों के निवेदन को स्वीकार करते हुए चेयरपर्सन परवीन ने चार टैंकर पानी भिजवाया। जिससे लोग अपने रोज के काम निपटा रहे है। अलबत्ता पीने के पानी की कमी बरकरार है। रीता, लीलावती, सविता, रेखा, पूनम आदि ने बताया कि पानी संकट गहराने से काफी दिक्कत उठानी पड़ रही है।

मुरादाबाद के अफसरों पर चार्ज, नहीं लेते सुध

आवास विकास बिजनौर में किसी अधिकारी की स्थाई तैनाती नहीं है। मुरादाबाद के जेई को नजीबाबाद व बिजनौर आवास विकास का अतिरिक्त प्रभार है। नागरिकों का कहना है कि अधिकारियों को कालोनी की समस्याओं से बार-बार अवगत कराने के बावजूद वह ध्यान नहीं देते हैं। यहीं वजह है कि पिछले पांच दिनों से पंप खराब पड़ा है और पानी का संकट गहरा गया है। बावजूद इसके अधिकारी सुध नहीं लेते हैं। उधर, आवास विकास मुरादाबाद के इंजीनियर मोहम्मद आजम वारिस का कहना है कि पुराना पंप ठीक कराने का प्रयास किया गया है, लेकिन वह सफल नहीं हुआ। दोबारा से नया पंप लगाया जा रहा है। जल्द ही समस्या दूर हो जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.