किसानों ने चक्का जाम करने का किया एलान

किसान सहकारी चीनी मिल परिसर में भाकियू तोमर के कार्यकर्ताओं को सातवें दिन भी धरना जारी रहा। किसानों ने चीनी मिल की ओर से बकाया गन्ना भुगतान को लेकर कोई वार्ता नहीं करने पर नाराजगी व्यक्त की है। किसानों ने कहा कि चीनी मिल बकाया भुगतान नहीं करती तो किसान 25 नवंबर को चीनी मिल के सामने हाईवे पर चक्का जाम करेंगे।

JagranMon, 22 Nov 2021 11:08 PM (IST)
किसानों ने चक्का जाम करने का किया एलान

बिजनौर, टीम जागरण। किसान सहकारी चीनी मिल परिसर में भाकियू तोमर के कार्यकर्ताओं को सातवें दिन भी धरना जारी रहा। किसानों ने चीनी मिल की ओर से बकाया गन्ना भुगतान को लेकर कोई वार्ता नहीं करने पर नाराजगी व्यक्त की है। किसानों ने कहा कि चीनी मिल बकाया भुगतान नहीं करती तो किसान 25 नवंबर को चीनी मिल के सामने हाईवे पर चक्का जाम करेंगे।

भारतीय किसान यूनियन तोमर के जिलाध्यक्ष विपिन चौधरी युवा जिलाध्यक्ष विशाल बालियान ने कहा कि बकाया गन्ना भुगतान की मांग को लेकर किसान सात दिन से धरना दे रहे हैं। चीनी मिल के जीएम किसानों से वार्ता के लिए नहीं आए हैं। अब किसानों के सब्र का बांध टूटने लगा है। किसान बकाया गन्ना भुगतान को लेकर पीछे नहीं हटने वाले है। चीनी मिल 24 नवंबर तक किसानों के खाते में पैसे नहीं भेजती तो किसान 25 नवंबर को चीनी मिल के सामने गुजर रहे राष्ट्रीय राजमार्ग नजीबाबाद-कोटद्वार पर चक्का जाम करेंगे, जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन एवं मिल के उच्च अधिकारियों की होगी। धरना-प्रदर्शन में जिला महासचिव चंद्रपाल सिंह गहलौत, पूर्व संचालक राघव प्रताप, सतवीर चौधरी, धर्मेंद्र तोमर, आदेश खानपुर, गुड्डू ,आकाश सैनी, हर्ष चौधरी, शान आदि किसान मौजूद रहे। किसान हित में किसान आयोग का गठन करे सरकार

भाकियू अंबावता के कार्यकर्ताओं ने मासिक पंचायत में सरकार पर किसानों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए 14 दिनों में गन्ने का भुगतान कराने, किसान आयोग का गठन करने, किसानों के बिजली बिल माफ करने सहित कई समस्याओं को उठाया। किसानों ने दो टूक कहा कि उनकी समस्याओं को गंभीरता से नहीं लिया गया तो किसान आंदोलनात्मक कार्रवाई को विवश होंगे।

भारतीय किसान यूनियन अंबावता के जिलाध्यक्ष शिव कुमार सहरावत की अध्यक्षता में तहसील परिसर में किसानों की मासिक पंचायत हुई। शिवकुमार ने कहा कि सरकार किसानों का शोषण कर रही है। किसानों को उनकी फसलों के वाजिब दाम नहीं मिल रहे हैं। चीनी मिल किसानों को पैसा दबाए बैठी हैं। घटतौली कर किसानों को आर्थिक नुकसान पहुंचाया जा रहा है। किसानों के गन्ने का भुगतान समय से नहीं किया गया तो सरकार को नुकसान उठना पड़ेगा। किसानों ने एसडीएम मनोज कुमार सिंह को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में किसानों ने गन्ने का भुगतान 14 दिनों के भीतर कराने, किसानों को कर्जा माफ किए जाने, किसान हित में किसान आयोग का गठन किए जाने, बिजली की अव्यवस्था को ठीक किए जाने, गन्ने की घटतौली पर रोक लगाई जाने, चंदक-नांगल नहर पटरी मार्ग पक्का कराए जाने, 60 वर्ष आयु के किसान-मजदूरों को पांच हजार रुपये मासिक पेंशन दिए जाने सहित कई समस्याओं को उठाया। इस अवसर पर डोरी पहलवान, विरेंद्र सिंह, फुरकान, वसीम अहमद, अब्दुला, सत्येंद्र कुमार, योद्धा सिंह, नरेंद्र सिंह, भूपेंद्र सिंह, टीकाराम सिंह, मोहम्मद अजमद, शमीम अहमद, महीपाल सिंह आदि मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.