जांच के घेरे में आया ओवरवेट गेहूं लेकर पहुंचा किसान

गांव स्थित क्रय केंद्र पर निर्धारित 53 के सापेक्ष 113 कुंतल गेहूं लेकर पहुंचा किसान जांच के दायरे में आ गया। जांच में रजिस्ट्रेशन में दर्ज गेहूं का सही भार चला तो निर्धारित गेहूं खरीदा की गई।

JagranPublish:Tue, 15 Jun 2021 10:43 PM (IST) Updated:Tue, 15 Jun 2021 10:43 PM (IST)
जांच के घेरे में आया ओवरवेट गेहूं लेकर पहुंचा किसान
जांच के घेरे में आया ओवरवेट गेहूं लेकर पहुंचा किसान

बिजनौर, जेएनएन। गांव स्थित क्रय केंद्र पर निर्धारित 53 के सापेक्ष 113 कुंतल गेहूं लेकर पहुंचा किसान जांच के दायरे में आ गया। जांच में रजिस्ट्रेशन में दर्ज गेहूं का सही भार चला, तो निर्धारित गेहूं खरीदा की गई। शेष गेहूं किसान को वापस ले जाना पड़ा। उधर मंडावर क्रय केंद्र पर चल रही गेहूं खरीद की जांच की गई।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर विक्रमादित्य मलिक एवं तहसीलदार प्रीति सिंह ने ग्राम पैदा, मंडावर, हल्दौर और दारानगर गंज स्थित गेहूं क्रय केंद्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गेहूं क्रय केंद्र पैदा पर गेहूं लेकर एक आया एक किसान ऐसा मिला, जिसका पंजीकरण के दौरान खसरे के अनुरूप 53 कुंतल निर्धारित था, कितु वह बेचने के लिए 113 कुंतल गेहूं लेकर आया था। गेहूं बोरियों में था और दे-तीन प्रकार का था। इस पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर पूर्ति निरीक्षक के नेतृत्व में गठित टीम में शामिल राजस्व विभाग के कर्मचारियों से आसपास के क्षेत्र में राशन डीलर्स के स्टॉक की जांच कराई। जांच में राशन डीलर्स का स्टाक सही मिला।

इसके बाद नायब तहसीलदार ने गन्ना विभाग में पहुंचकर किसान के कृषि भूमि के वास्तविक रकबे की जानकारी हासिल की, तो पता चला कि गेहूं की बिक्री के लिए लगाए गए खसरे में दर्ज भूमि ही उक्त किसान के पास है। इस पर उक्त किसान का 53 कुंतल गेहूं खरीदे जाने के बाद अवशेष गेहूं 54 गेहूं वापस कर दिया। उधर, तहसीलदार सदर प्रीति सिंह के अनुसार मंगलवार को मंडावर केंद्र पर निर्धारित से अधिक गेहूं आने की शिकायत मिली थी, टीम को जांच के लिए उक्त क्रय केंद्र पर भेजा गया है।