जिले की बेटियों ने यूपीएससी उत्तीर्ण बढ़ाया जनपद का मान

बिजनौर जेएनएन। जिले की बेटियों ने यूपीएससी उत्तीर्ण कर अभिभावक गांव क्षेत्र और जनपद का यूपी

JagranSat, 25 Sep 2021 08:09 PM (IST)
जिले की बेटियों ने यूपीएससी उत्तीर्ण बढ़ाया जनपद का मान

बिजनौर, जेएनएन। जिले की बेटियों ने यूपीएससी उत्तीर्ण कर अभिभावक, गांव क्षेत्र और जनपद का यूपी में मान बढ़ाया। ग्राम खासपुरा की बेटी अभिलाषा कौर व ग्राम फतेहपुर निवासी किसान की बेटी काजल सिंह ने वर्ष 2020 की यूपीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण की। इनकी इस कामयाबी पर परिवार ही क्षेत्र और जनपद के लोगों को बहुत खुशी है। परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने फतेहपुर पहुंचकर काजल सिंह को सम्मानित कर आशीर्वाद दिया। दोनों के घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। दोनों बेटियों ने कहा कि बेटियां हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा के बलबूते आगे हैं। इसलिए बेटियों को मौका दिया जाना चाहिए। जिससे वह राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका निभा सकें।

खालसा इंटर कॉलेज नूरपुर के सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य व खासपुरा निवासी डा. कोमल सिंह की पुत्री अभिलाषा कौर ने यूपीएससी की परीक्षा उत्तीर्ण कर 292 वीं रैंक प्राप्त कर जिले का नाम रोशन किया है। शिक्षाविद सरदार अभिषेक सिंह ने बताया कि उनकी बहन अभिलाषा कौर प्रारंभिक कक्षाओं में मेधावी रही। वह गौतम बुद्ध टेक्निकल यूनिवर्सिटी लखनऊ से इलेक्ट्रानिक कम्युनिकेशन ट्रेड से बीटेक पाठ्यक्रम में सम्मान सहित प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण रही है। उन्होंने राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (हृश्वञ्ज) भी दो बार उत्तीर्ण है। धार्मिक कार्यों में सदैव सम्मिलित रहती है।

हीमपुरदीपा : गांव फतेहपुर कला निवासी किसान परिवार में जन्मी काजल सिंह पुत्री देवेंद्र सिंह की प्रारंभिक शिक्षा उनके फूफा एडीओ पंचायत विकासखंड कोतवाली देहात में तैनात सुरेंद्र सिंह निवासी आसपुर नवादा के यहां रहकर हुई। इसके बाद उन्होंने वनस्थली जयपुर से हाईस्कूल, तो कोटा राजस्थान से इंटर की परीक्षा पास की। दिल्ली से स्नातक किया। काजल ने 2017 में दिल्ली में कोचिग की। काजल सिंह ने वर्ष 2020 की यूपीएससी की परीक्षा में 202 वीं रैंक हासिल की। उनकी उपलब्धि पर उनके घर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। वहीं, गांव में खुशी के साथ जश्न मनाया जा रहा है। आईपीएस के लिए चयनित काजल सिंह ने अपनी सफलता का श्रेय अपने दादा स्वर्गीय गंभीर सिंह, दादी राजवती, पिता देवेंद्र, मां कुसुम देवी सहित स्वजन और गुरुओं को दिया।

---

-पहले डिप्टी, इस बार आईपीएस में हुआ चयन

काजल ने बताया कि 20 घंटे तक दिन-रात अध्ययन करते हुए वर्ष 2020 की यूपीएससी परीक्षा में 36 वीं रैंक हासिल की। जिसके बाद उनका चयन डिप्टी कलेक्टर के पद पर हुआ। अब दूसरी बार 2020 में ही यूपीएससी के परीक्षा परिणाम में उन्होंने 202 वीं रैंक हासिल की और उनका आईपीएस के लिए चयन हुआ है।

--

बधाई देने घर पहुंचे परिवहन मंत्री अशोक कटारिया

प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री अशोक कटारिया ने काजल सिंह को उनके घर पहुंच कर बधाई दी। उनका कहना था कि सिविल सेवा परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली बिजनौर की बिटिया काजल चौधरी जनपद सहित उत्तर प्रदेश की मातृशक्ति के लिए प्रेरक साबित होगी। इस दौरान उनके साथ ललित चौधरी, शिव अवतार सिंह, सीताराम, भाजपा युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष रोबिन चौधरी, जिला उपाध्यक्ष लवकुश गुर्जर ,शंकित राठी, विवेक कालेज के एमडी अमित गोयल आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.