डीएम की स्वीकृति को भेजा गया छात्रसंघ चुनाव का प्रस्ताव

- कानरा महाविद्यालय - अनुमति मिली तो दिसंबर के पहले पखवारे में हो सकता है निर्वाचन - बैनर-पो

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 06:00 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 06:00 PM (IST)
डीएम की स्वीकृति को भेजा गया छात्रसंघ चुनाव का प्रस्ताव
डीएम की स्वीकृति को भेजा गया छात्रसंघ चुनाव का प्रस्ताव

- कानरा महाविद्यालय

- अनुमति मिली तो दिसंबर के पहले पखवारे में हो सकता है निर्वाचन

- बैनर-पोस्टर से पटा महाविद्यालय परिसर, चुनावी तिथि का है इंतजार जागरण संवाददाता, ज्ञानपुर (भदोही) : काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ज्ञानपुर में छात्रसंघ चुनाव को संपन्न कराने की गेंद अब जिलाधिकारी के पाले में पहुंच चुकी है। जिला प्रशासन से अनुमति मिली तो आगामी दिसंबर के पहले पखवारे में चुनाव संभावित हो सकता है। हालांकि अभी आगे क्या होगा यह तो महाविद्यालय व जिला प्रशासन जाने लेकिन पूरा महाविद्यालय परिसर संभावित दावेदारों के बैनर-पोस्टर से पट चुका है तो मैदान में उतरने वाले विभिन्न पदों के दावेदारों को चुनावी तिथि घोषित होने का इंतजार है।

काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ज्ञानपुर में अध्यक्ष, महामंत्री, उपाध्यक्ष सहित कला, विज्ञान, वाणिज्य व शिक्षा संकाय प्रतिनिधि का चुनाव संपन्न कराया जाता है। महाविद्यालय प्रशासन की ओर से निर्वाचन की पहल करते हुए संस्कृत विभाग की विभागाध्यक्ष डा. ऋचा को निर्वाचन अधिकारी नामित कर दिया गया है। इससे चुनाव की आहट मिलते ही संभावित दावेदार छात्रनेताओं की सक्रियता बढ़ चुकी है। एक ओर जहां वह पूरे परिसर में अपने बैनर पोस्टर लगाकर यह दर्शा रहे हैं कि वह मैदान में प्रबल दावेदार के रूप में उतरने वाले हैं तो छात्र-छात्राओं को विभिन्न नारों व वादों से अपने पक्ष में समर्थन के लिए लुभाने की पूरी कोशिश करने में जुटे हुए हैं। इसे लेकर कोई महाविद्यालय प्रशासन की बिजली, पानी जैसी समस्या को उठा रहा है तो कोई छात्र-छात्राओं के प्रवेश आदि के कार्य में आने वाली अड़चनो के सुलझाने में लगा है। बहरहाल जो भी हो लेकिन अभी निर्वाचन को लेकर कोई तिथि नहीं घोषित हो सकी है लेकिन अटकलें लगाई जा रही हैं कि आगामी माह में चुनाव संपन्न कराया जा सकता है। वैसे इस संबंध में निर्वाचन अधिकारी डा. ऋचा का कहना रहा कि उन्होंने जिलाधिकारी को छात्रसंघ चुनाव के लिए सुरक्षा व्यवस्था आदि के लिए अवगत कराया है। उनकी ओर से जैसे ही कोई अनुमति मिलेगी निर्वाचन संपन्न कराया जाएगा।