अब रामजानकी तिराहे पर होगी बाहर से आने वालों की कोविड जांच

अब रामजानकी तिराहे पर होगी बाहर से आने वालों की कोविड जांच

दिल्ली में लाकडाउन के चलते फिर तेजी से लौट रहे प्रवासी

JagranWed, 21 Apr 2021 11:29 PM (IST)

जागरण संवाददाता,बस्ती: घघौआ पुलिस चौकी के स्थान पर अब विक्रमजोत के रामजानकी तिराहा छावनी बाजार में बाहर से आने वाले यात्रियों की कोविड-19 की जांच कराई जाएगी। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने बताया कि इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। इस कार्य के लिए तैनात नोडल अधिकारी एवं अन्य कर्मचारी तत्परतापूर्वक अपना कार्य संपादित करेंगे।

विकास भवन प्रांगण में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि दिल्ली में लाकडाउन हो गया है ऐसी स्थिति में काफी लोगों के जिले में आने की संभावना है। सभी लोगों की कोविड-19 की जांच कराई जाए ताकि अन्य लोगों को उसके संक्रमण से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि ट्रेन से आने वाले लोगों के लिए बभनान एवं बस्ती रेलवे स्टेशन पर जांच टीमें लगाई गई हैं।

उन्होंने निर्देश दिया है कि प्रत्येक गांव एवं मोहल्लों में तैनात निगरानी समितियां सक्रियता से प्रवासी लोगों की पहचान करें तथा उनकी कोरोना की जांच कराएं। 20 अप्रैल को बस्ती रेलवे स्टेशन पर 80 यात्रियों में एक व्यक्ति पॉजिटिव मिला था। इसी प्रकार घघौवा में 47 में चार व्यक्ति पाजिटिव मिले। बभनान रेलवे स्टेशन पर 37 यात्री उतरे परंतु उसमें कोई भी पाजिटिव नहीं मिला। उन्होंने निर्देश दिया है कि छावनी तिराहा, बभनान एवं बस्ती रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों की सूची ब्लाकवार डीपीआरओ को उपलब्ध कराई जाएगी जिसे वे निगरानी समिति को उपलब्ध कराएंगे और ऐसे व्यक्तियों की नियमित निगरानी की जाएगी। पाजिटिव अनट्रेस्ड मरीजों की खोज में लगाए गए लेखपाल

जिलाधिकारी ने कोरोना पाजिटिव अनट्रेस्ड लोगों को ट्रेस करने पर विशेष जोर दिया है। इसके लिए उन्होंने तहसीलवार राजस्व निरीक्षक तथा लेखपालों की ड्यूटी लगाया है जो कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में तैनात ईपिडिमियोलाजिस्ट उमेश से प्रतिदिन अनट्रेस्ड लोगों की सूची प्राप्त करके ट्रेस करेंगे तथा इसकी सूचना वाट्सएप पर अथवा कमांड सेंटर के नंबर 05542-245672 पर उपलब्ध कराएंगे। ऐसे लोगों को ट्रेस करके होम आइसोलेशन या एल-1 हास्पिटल में अविलंब भेजे जाने के निर्देश दिए गए हैं।

जिलाधिकारी ने कहा कि वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण बढ़ने के कारण मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जिसके लिए होम आइसोलेशन एवं एल-1 अस्पताल में भर्ती मरीजों का फीडबैक लिया जाना अत्यंत आवश्यक है। इसके लिए उन्होंने एनसीडी क्लीनिक बस्ती, हरैया, परशुरामपुर, मुंडेरवा में तैनात विवेक श्रीवास्तव, अविनाश सिंह, अमित सिंह, योगेंद्र शर्मा, श्रीमती पूजा सिंह की ड्यूटी विकास भवन स्थित कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में लगाई गई है जो मरीजों से फीडबैक प्राप्त करेंगे। प्राप्त फीडबैक के आधार पर संबंधित एमओआईसी अग्रिम कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे। गंभीर मरीजों को ही कैली में भर्ती किया जाएगा

ओपेक कैली अस्पताल में गंभीर प्रकृति की बीमारियों वाले संक्रमित व्यक्ति तथा गर्भवती महिलाओं को भर्ती किया जाएगा। अन्य सामान्य मरीजों को कोविड-19 एल-1 अस्पताल मुंडेरवा, शेल्टर होम, दुबौलिया सीएचसी तथा भानपुर स्थित आश्रम पद्धति विद्यालय में भर्ती किया जाएगा। वर्तमान समय में कैली में सभी बेड फुल चल रहे हैं। उन्होंने यहां भर्ती संक्रमित मगर सामान्य प्रकृति के मरीजों को पचपेडिया रोड स्थित शेल्टर होम में शिफ्ट करने का निर्देश दिया है।

प्रवासी कामगारों को चिन्हित कर जांच करने पर दिया जोर

जिलाधिकारी ने प्रवासी लोगों की जांच पर विशेष बल दिया है। समीक्षा में पाया कि गौर ब्लाक में 1035 में से 268, बनकटी में 403 में 181, बस्ती सदर में 335 में 64 तथा रामनगर में 813 में 411 प्रवासी लोगों की जांच हो पाई है।

बैठक में सीएमओ डा.अनूप कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नंदकिशोर कलाल, एसडीएम आनंद श्रीनेत, डा. सीके वर्मा, परियोजना निदेशक कमलेश सोनी, जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव, कृषि अधिकारी संजेश श्रीवास्तव, बेसिक शिक्षा अधिकारी जगदीश शुक्ला, टीपी गुप्ता, सुधीर यादव, डीपीएम राकेश पांडे, खंड विकास अधिकारी एवं प्रभारी चिकित्साधिकारी उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.