मुंडेरवा में आइजी तो गौर व वाल्टरगंज में डीएम, एसपी ने सुनी समस्याएं

आइजी अनिल कुमार राय शनिवार को थाना मुंडेरवा थाने में आयोजित थाना समाधान दिवस का जायजा लिया। फरियादियों की समस्याओं को सुना तथा वहां मौजूद संबंधित राजस्व और पुलिस विभाग के अधिकारियों को मौके पर जाकर शिकायतों का शत प्रतिशत गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने का निर्देश दिया।

JagranSat, 24 Jul 2021 11:07 PM (IST)
मुंडेरवा में आइजी तो गौर व वाल्टरगंज में डीएम, एसपी ने सुनी समस्याएं

बस्ती: जिले के सभी थानों पर शनिवार को थाना समाधान दिवस का आयोजन कर पीड़ितों की समस्याएं सुनी गई और उनके निस्तारण का निर्देश दिया गया। आइजी बस्ती रेंज ने मुंडेरवा थाने में तो डीएम-एसपी ने वाल्टरगंज और गौर थाने में शिकायतों को सुना।

आइजी अनिल कुमार राय शनिवार को थाना मुंडेरवा थाने में आयोजित थाना समाधान दिवस का जायजा लिया। फरियादियों की समस्याओं को सुना तथा वहां मौजूद संबंधित राजस्व और पुलिस विभाग के अधिकारियों को मौके पर जाकर शिकायतों का शत प्रतिशत गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने का निर्देश दिया।

वहीं डीएम सौम्या अग्रवाल एवं एसपी आशीष श्रीवास्तव ने गौर थाने में पीड़ितों की समस्या सुनी। इस बीच लेखपाल रविराज सिंह बिना कारण बताए थाना दिवस से गायब रहे, उनका एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया। थाना दिवस पर केसरई गांव के प्रेम कुमार यादव ने शिकायती पत्र देकर बताया कि गांव के ही कुछ लोग सड़क में भैंस बांध रहे हैं, जिससे आने जाने में दिक्कत हो रही है। वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के श्रीपालपुर गांव निवासिनी सावित्री देवी ने फरियाद करते हुए कहा कि शुक्रवार को उसके पुत्र की बभनान में हत्या कर दी गई। उसका शव रोशनदान से लटका दिया गया। थाना दिवस में कुल 21 मामले आए, जिसमें चार मामलों में राजस्व और पुलिस की टीम बनाकर निस्तारण के लिए गांव में भेजा गया। प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार आदि मौजूद रहे।

वाल्टरगंज थाने में भी डीएम और एसपी ने कुछ देर पीड़ितों की फरियाद सुनी। इसके पूर्व ज्वाइंट मजिस्ट्रेट उपजिलाधिकारी भानपुर अमृतपाल कौर की अध्यक्षता में थाना समाधान दिवस का आयोजन किया गया। 13 मामलों का पंजीकरण किया गया, जिसमें से सिर्फ एक का ही मौके पर निस्तारण हो सका। इस मौके पर एसओ दुर्विजय सहित सभी उपनिरीक्षक व राजस्वकर्मी मौजूद रहे।

पुरानी बस्ती थाने में प्रभारी निरीक्षक बृजेंद्र पटेल ने पीड़ितों की शिकायतें सुनी। कुल पांच मामले आए, जिनमें एक का मौके पर निस्तारण हो सका। कोतवाली में तहसीलदार इंद्रमणि त्रिपाठी व प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार त्रिपाठी ने समस्याएं सुनी। कुल सात मामलों में से दो का मौके पर निस्तारण कर दिया गया।

कलवारी में थानाध्यक्ष अरविन्द कुमार शाही की अध्यक्षता में आयोजित समाधान दिवस में कुल सात मामले आए। एक का भी मौके पर निस्तारण नहीं हो सका। दिन में करीब 12 बजे एसडीएम सदर पवन जायसवाल भी पहुंचे। उन्होंने जमीन से संबंधित सभी मामलों को शीघ्र निस्तारित करने का निर्देश दिया।

हर्रैया थाना परिसर में तहसीलदर चंद्रभूषण व प्रभारी निरीक्षक बिदेश्वरी मणि त्रिपाठी की अध्यक्षता में थाना समाधान दिवस का आयोजन किया गया। कुल 11 मामले आए, जिसमें से किसी भी मामले का मौके पर निस्तारण नहीं हो पाया। जिससे फरियादियों को निराश होकर लौटना पड़ा। छावनी में थानाध्यक्ष आलोक श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कुल 10 मामले आए जिसमें से छह का मौके पर निस्तारण हो गया। दुबौलिया में प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार सिंह की अध्यक्षता में कुल छह मामले आए। किसी का भी निस्तारण नहीं हो सका। कप्तानगंज थाना पर प्रभारी निरीक्षक बृजेश सिंह की अध्यक्षता में समाधान दिवस में कुल सात मामले आए, जिसमें से एक का निस्तारण हुआ। परशुरामपुर में नायब तहसीलदार निखिलेंद्र चौधरी की अध्यक्षता में कुल सात मामले आए, जिसमें एक का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। प्रभारी निरीक्षक राजेश मिश्र भी मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.