अस्पतालों में मनाया जाएगा खुशहाल परिवार दिवस

सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी (एमओआईसी) से कहा गया है कि खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन कोविड प्रोटोकाल के साथ किया जाए। मास्क पहन कर आने को कहें। एक-दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाने पर जोर दिया जाए।

JagranMon, 20 Sep 2021 11:33 PM (IST)
अस्पतालों में मनाया जाएगा खुशहाल परिवार दिवस

बस्ती : खुशहाल परिवार दिवस मंगलवार को आयोजित होगा। हर माह की 21 तारीख को इसका आयोजन जिला महिला अस्पताल सहित सभी ब्लाक स्तरीय अस्पतालों के अलावा एएनएम सेंटर और हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर होता है। खुशहाल परिवार दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में पात्र दंपती को परिवार नियोजन से संबंधित साधनों का बास्केट आफ च्वायस उपलब्ध कराया जाता है।

कार्यक्रम का मकसद आम लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक करके छोटा परिवार रखने के लिए प्रेरित करना है। एसीएमओ डा. सीके वर्मा ने बताया कि इस दिन आशा द्वारा गांव में पात्र दंपती को प्रेरित करके स्वास्थ्य केंद्र पर लाया जाता है। यहां पर मौजूद विशेषज्ञों द्वारा दंपती की काउंसिलिग की जाती है और परिवार नियोजन के लिए उचित साधन अपनाने की सलाह दी जाती है।

जिन लोगों द्वारा नसबंदी की इच्छा व्यक्त की जाती है, उनका पंजीकरण कराया जाता है तथा नसबंदी के लिए निर्धारित सेवा दिवस के दिन उन्हें सूचना देकर बुलाया जाता है,फिर वहां निश्शुल्क आपरेशन की सुविधा प्रदान की जाती है। खुशहाल परिवार दिवस के अवसर पर आयोजन स्थल पर ही परिवार नियोजन के साधन लोगों को मुहैया कराये जाते हैं। बताया कि परिवार नियोजन के माध्यम से छोटा और सुखी परिवार बनाने के लिए प्रेरित किया जाता है। यह कार्यक्रम शिशु एवं मातृ मृत्यु दर में कमी लाने में काफी मददगार साबित हो रहा है। बताया कि जनपद की कुल प्रजनन दर 3.5 है, जो राष्ट्रीय औसत से अधिक है। इसे देखते हुए जिले में मिशन परिवार विकास कार्यक्रम चलाया जा रहा है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस बारे में जागरूक भी किया जा रहा है। कोविड प्रोटोकाल के साथ होगा आयोजन

सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी (एमओआईसी) से कहा गया है कि खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन कोविड प्रोटोकाल के साथ किया जाए। मास्क पहन कर आने को कहें। एक-दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाने पर जोर दिया जाए। अस्पताल में सैनिटाइजर व हाथ धोने के लिए साबुन व पानी की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई जाएगी। महिलाओं में बढ़ी जागरूकता

छोटे परिवार के प्रति महिलाओं में जागरूकता बढ़ी है। इस वित्तीय वर्ष में 1783 महिलाओं ने प्रसव पश्चात पोस्ट पार्टम इंट्रायूटेराइन कंट्रासेप्टिव डिवाइस (पीपीआइयूसीडी) 1883 महिलाओं ने इंट्रायूटेराइन कंट्रासेप्टिव डिवाइस (आइयूसीडी) 1389 महिलाओं द्वारा तिमाही गर्भनिरोधक अंतरा इंजेक्शन अपनाया गया है। 66 महिलाओं ने नसबंदी कराई है। इसके अलावा परिवार नियोजन से संबंधित अन्य संसाधनों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.