घर-घर पहुंचेगी बुलावा पर्ची, कलस्टर में होगा टीकाकरण

अगले माह से हर दिन बड़ी संख्या में लोगों का कराया जाएगा टीकाकरण

JagranThu, 17 Jun 2021 11:15 PM (IST)
घर-घर पहुंचेगी बुलावा पर्ची, कलस्टर में होगा टीकाकरण

जागरण संवाददाता, बस्ती : कोविड टीकाकरण को जुलाई से रफ्तार मिलेगी। गांवों का कलस्टर बनाकर बड़े पैमाने पर टीकाकरण किया जाएगा। लोकसभा व विधानसभा चुनाव की तर्ज पर आशा के माध्यम से लाभार्थी को बुलावा पर्ची भेजी जाएगी, जिसमें टीकाकरण का स्थान, तिथि आदि अंकित होगी।

इस अभियान में ग्राम प्रधान, लेखपाल, आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक, पंचायत सेक्रेटरी आदि का सहयोग लिया जाएगा। अगले माह से बड़ी संख्या में लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य शासन स्तर पर तय किया गया है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. फखरेयार हुसैन ने बताया कि सीएमओ की अध्यक्षता में बैठक की जाएगी। योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए विचार-विमर्श किया गया है। तैयारी के लिए सभी एमओआईसी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। जिले की आबादी का लगभग 60 फीसद को जुलाई में टीका लगाया जाना है। उन्होंने बताया कि अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के अनुसार जून में करीब एक करोड़ लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य है और जिस रफ्तार से टीकाकरण हो रहा है, उससे प्रतीत होता है कि लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा। अब अगले महीने से और अधिक ध्यान देने के साथ विस्तृत कार्ययोजना बनाने की जरूरत है ताकि हर दिन टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए विकास खंड को तथा शहरी क्षेत्र में शहरी निकाय को इकाई के रूप में लेकर कार्ययोजना बनानी है। इन इकाइयों को क्लस्टर्स में इस तरह से विभाजित किया जाएगा ताकि एक माह के अंदर टीकाकरण टीमें सभी क्लस्टर्स में पहुंच जाएं। क्लस्टर में टीकाकरण करने वाली टीमों के समूह को क्लस्टर वैक्सीनेशन ग्रुप व राजस्व ग्राम में टीकाकरण के प्रति जागरूकता लाने और अनुकूल वातावरण बनाने वाली टीम को मोबिलाइजेशन टीम कहा जाएगा।

प्रत्येक क्लस्टर के लिए टीकाकरण की तिथियां एवं स्थान पूर्व से ही घोषित कर दिए जाएंगे। इन सभी स्थलों पर वहीं पर रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा होगी और घर के नजदीक ही केंद्र बनाकर टीकाकरण किया जाएगा। पंचायत घर, विद्यालय भवन आदि में टीकाकरण बूथ बनाया जाएगा।

---

तीन दिन तक लोगों को बताई जाएगी टीकाकरण की उपयोगिता :

मोबिलाइजेशन टीम तीन दिन तक लोगों को टीका व टीकाकरण के बारे में जानकारी देने के साथ ही संशय मिटाने का कार्य किया जाएगा। यह ध्यान रखा जाएगा कि हर क्लस्टर में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों की आबादी करीब-करीब समान हो ताकि चार से छह दिन में उन सभी का टीकाकरण किया जा सके। क्लस्टर के विभाजन में मतदाता सूची भी सहायक हो सकती है।

---

हर राजस्व ग्राम में मोबिलाइजेशन टीम होगी गठित :

क्लस्टर में टीकाकरण के लिए अनुकूल वातावरण तैयार करने के लिए हर राजस्व ग्राम में मोबिलाइजेशन टीम बनेगी, जिसमें ग्राम प्रधान, लेखपाल, आशा-आंगनबाड़ी, प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक, पंचायत सेक्रेटरी और युवक मंगल दल, महिला मंगल दल के सदस्य शामिल होंगे। इनका काम टीकाकरण को लेकर बनी संशय की स्थिति को दूर करना और टीकाकरण के लिए प्रेरित करना होगा। टीकाकरण के दौरान किसी प्रकार की प्रतिकूल घटना (एईएफआई) के प्रबंधन के लिए दो क्विक रेस्पांस टीम (क्यूआरटी) लगाई जाएगी। इन दो टीमों के समूह को क्लस्टर रेस्पांस टीम (सीआरटी) कहा जाएगा। टीम के पास वाहन की व्यवस्था होगी और जरूरी दवाएं भी मौजूद होंगी। टीकाकरण के बाद किसी व्यक्ति में किसी भी प्रतिकूल परिस्थिति में 108 एंबुलेंस को तत्काल बुलाया जाएगा और संबंधित को अस्पताल पर पहुंचाया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.