पति की अस्थियां विसर्जन के लिए महिला गई थी हरिद्वार, लौटने पर मकान देख सिर पकड़कर बैठ गईं, जानें क्या हुआ था

Bareilly Crime News अस्थि विसर्जन के लिए हरिद्वार गया परिवार जब लौटकर आया तो घर की हालत देख सिर पकड़कर बैठ गया। दरअसल इस बीच चोरों ने घर पर अपना हाथ साफ कर दिया था।डेढ़ लाख की नकदी व लाखों रुपये के जेवरात चोर उड़ा ले गए।

Samanvay PandeyFri, 24 Sep 2021 09:13 AM (IST)
डेढ़ लाख की नकदी समेत लाखों के जेवरात चोरी, रिपोर्ट दर्ज। प्रतिकात्मक फोटो

बरेली, जेएनएन। Bareilly Crime News : अस्थि विसर्जन के लिए हरिद्वार गया परिवार जब लौटकर आया तो घर की हालत देख सिर पकड़कर बैठ गया। दरअसल, इस बीच चोरों ने घर पर अपना हाथ साफ कर दिया था।डेढ़ लाख की नकदी व लाखों रुपये के जेवरात चोर उड़ा ले गए। मामले में महिला रितु शर्मा की तहरीर पर बारादरी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बारादरी के सम्राट अशोक नगर की रहने वाली रितु शर्मा ने बताया कि 21 सितंबर को वह पति की अस्थियों के विसर्जन के लिए परिवार संग हरिद्वार गई थी।

उसी दिन दाेपहर करीब ढाई बजे सभी घर लौट आए। घर के मेन गेट का दरवाजा खोलकर लोगों ने अंदर एंट्री की तो नजारा देखकर दंग रह गए। अंदर सामान बिखरा पड़ा था। कमरों के दरवाजों के ताले टूटे पड़े थे। एक कमरे में रखी अलमारी व लाकर टूटा मिला। लाकर देखा तो उसमे रखे डेढ़ लाख रुपये व जेवरात गायब थे। बारादरी पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। रितु की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ चोरी की खिपोर्ट दर्ज की। रितु शर्मा एक संगठन की जिलाध्यक्ष बताई जाती हैं। इंस्पेक्टर बारादरी नीरज मलिक ने बताया कि आस-पास के सीसीटीवी खंगाल चोरों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

जैन दंपती हत्याकांड मामले में सुनवाई टली : जैन दंपती हत्याकांड के मामले की सुनवाई अब एक अक्टूबर को होगी। उत्तराखंड सरकार में मंत्री रेखा आर्या का पति आरोपित पप्पू गिरधारी की अर्जी पर हाईकोर्ट में सुनवाई लंबित है। बचाव पक्ष के अधिवक्ता अनिल भटनागर ने कोर्ट को बताया कि हाईकोर्ट में अर्जी पर सुनवाई अब 27 सितंबर को होना है। लिहाजा अदालत से मांग की गई कि पप्पू गिरधारी के गिरफ्तारी वारंट की रोक को अगली सुनवाई तक बढ़ा दिया जाए। अपर सेशन कोर्ट ने वारंट के स्थगन आदेश की अवधि एक अक्टूबर तक बढ़ा दी है।

रेलवे संपत्ति की चोरी पर सजा : रेलवे वर्कशाप से तार चोरी के मामले में रेलवे कोर्ट ने गुरुवार को दोषी को दो वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। वारदात 27 अगस्त 2015 की है। इज्जतनगर वर्कशाप से छुट्टी के दौरान सभी कर्मचारी बाहर निकल रहे थे। इसी बीच रेलवे कालोनी निवासी राजेंद्र कुमार को कापर तारों के तीन बंडलों के साथ पकड़ लिया गया। तारों के बंडल आरोपित ने कमर से बांध रखे थे। सुरक्षाकर्मियों ने आरोपित को आरपीएफ के हवाले कर दिया। लोक अभियोजक रेलवे कोर्ट मनोज कुमार मीणा ने अदालत में आठ गवाह पेश किए। एसीजेएम एनईआर अनुभव कटियार ने दोषी को कठोर कारावास की सजा व दो हजार रुपये जुर्माने से दंडित किया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.