UP Rice Millers Strike : किसानों के लिए मुसीबत बनी राइस मिलर्स की हड़ताल, बारिश में गिरी धान की पकी फसलों की बिक्री पर छाया संकट

UP Rice Millers Strike शाहजहांपुर में बारिश व हवा से धान की पकी फसल के गिर जाने पर किसान कटाई में लग गए है। लेकिन राइस मिलर्स की हड़ताल उनके लिए मुसीबत बनी हुई है। उनके सामने धान बिक्री का संकट छा गया है।

Ravi MishraSat, 18 Sep 2021 11:57 AM (IST)
UP Rice Millers Strike : किसानों के लिए मुसीबत बनी राइस मिलर्स की हड़ताल

बरेली, जेएनएन। UP Rice Millers Strike : शाहजहांपुर में बारिश व हवा से धान की पकी फसल के गिर जाने पर किसान कटाई में लग गए है। लेकिन राइस मिलर्स की हड़ताल उनके लिए मुसीबत बनी हुई है। उनके सामने धान बिक्री का संकट छा गया है।

यूपी राइस मिलर्स एसोसिएशन ने क्रय नीति के विरोध में हड़ताल कर दी है। इससे क्षेत्र की राइस मिलों ने भी अभी धान की खरीद शुरू नहीं की, जबकि सितंबर में क्षेत्र में राइस मिलर्स में खरीद शुरू हो जाती थी। राइस मिलों के बंद होने से किसानों के सामान धान बिक्री का संकट बना हुआ है।

मिनी पंजाब के नाम से कहीं जाने वाली पुवायां तहसील पर राइस मिलर्स किसानों की फसलों पर ग्रहण लग गया है। सरकारी क्रय केंद्रों पर एक अक्टूबर से धान खरीद केंद्र शुरू होगी, तब तक किसान कहां धान बेचे उनके लिए समस्या बनी हुई है। पुवायां के गंगसरा क्षेत्र के

पकड़िया हकीम, तेंदुआ फार्म, बेहटा सनवात्, बिलन्दापुर, दिउरिया, उमरिया कल्यानपुर, पकड़िया हकीम, महमदपुर सहजनियां, बसंतापुर, मझिगवां, गंगसरा, दिउरिया गुटैया, बिल्सिया दौलतपुर, रघुनाथपुर, नत्थापुर, रामपुर कलां, बेला, मदारपुर वैवहा ,रसूलापुर , लक्ष्मीपुर ,टाह,सिरियारी फार्म ,बरौना आदि गांवों में बड़ी मात्रा में धान की पैदावार होती है। क्षेत्र में स्थित सुखवीर एग्रो एनर्जी व धारा राइस मिल में भी धान खरीद न होने से किसान परेशान हैं ।

-- -- -

किसानाें की बात

फोटो 17 एसएचएन 21

खरीद शुरू न होने से धान की पकी फसल बिक्री का संकट है। सरकार को समाधान निकालना चाहिए।

पारस गुप्ता

-- -- -- -- -- -- -- --

फोटो 17 एसएचएन 22

धान की फसल गिर गई। जिसे काटना जरूरी है। राइस मिल चल नहीं रहे, आखिर फसल को कहां लेकर जाएं।

जसपाल सिंह

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.