पीलीभीत में शारदा नदी का जलस्तर और बढ़ा, उत्तराखंड के बनबसा बैराज से फिर छोड़ा गया पानी

Water level of Sharda river in Pilibhit increased उत्तराखंड स्थित बनबसा बैराज से शारदा नदी में सुबह 2 लाख 18 हजार क्यूसेक अतिरिक्त पानी छोड़ा गया है। इस कारण पीलीभीत में शारदा नदी का जलस्तर और ज्यादा बढ़ गया है।

Samanvay PandeySun, 20 Jun 2021 12:39 PM (IST)
उत्तराखंड के बैराज से शारदा नदी में छोड़ा गया 2.18 लाख क्यूसेक पानी।

बरेली, जेएनएन।Water level of Sharda river in Pilibhit increased : उत्तराखंड स्थित बनबसा बैराज से शारदा नदी में सुबह 2 लाख 18 हजार क्यूसेक अतिरिक्त पानी छोड़ा गया है। इस कारण पीलीभीत में शारदा नदी का जलस्तर और ज्यादा बढ़ गया है। इससे पूरनपुर तहसील के ट्रांस क्षेत्र के गांवों में रहने वालों की मुश्किलें लगातार बढ़ रही हैं। गांवों के संपर्क मार्गों पर पानी चलने लगा है। इस क्षेत्र में चल रहे बाढ़ से बचाव कार्य भी रुक गए हैं।

कई गांवों में तो शारदा नदी का पानी घरों में घुस रहा है। ऐसे में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो रहे हैं। लोग अपना घरेलू सामान और मवेशियों की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उधर, सिंचाई विभाग एवं बाढ़ खंड के अधिशासी अभियंता शैलेष कुमार के अनुसार दो दिन लगातार वनबसा बैराज से काफी मात्रा में अतिरिक्त पानी छोड़ने के कारण शारदा नदी उफान पर है। हालांकि अभी बाढ़ जैसी स्थिति नहीं है। नदी के बढ़ते जलस्तर पर निगरानी रखी जा रही है। जलस्तर में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी के कारण बचाव कार्य फिलहाल बंद हो गए हैं।

सिपाहियों ने पहुंचकर किया अलर्ट : बनबसा बैराज से छोड़े गए पानी से जहां शारदा में बेहद उफान आया है वही इससे नदी के किनारे रहने वाले ग्रामीणों में दहशत उत्पन्न हो गई है। दोपहर बाद तक पानी बढ़ने का क्रम जारी रहा। दो पुलिस कर्मियों ने गांव राहुलनगर पहुंचकर ग्रामीणों को अलर्ट किया। उन्हें बताया गया कि नदी में और भी पानी बढ़ने की संभावना है।घरों में पानी भरने से ग्रामीणों को परेशानियां हुई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.