बदायूं में जेसीबी देख व्यापारियों में मची अफरा-तफरी, एसडीएम से मांगी दो दिन की मोहलत

नगर पंचायत का दर्जा मिलने के बाद नगर के मेन रोड पर आए दिन लगते जाम से छुटकारा पाने के लिए प्रशासन ने मैन रोड का चौड़ीकरण के लिए दोनों ओर निशान लगाकर उन्हे पांच दिन का समय दिया गया था।

Ravi MishraWed, 15 Sep 2021 01:54 PM (IST)
बदायूं में जेसीबी देख व्यापारियों में मची अफरा-तफरी, एसडीएम से मांगी दो दिन की मोहलत

बरेली, जेएनएन। नगर पंचायत का दर्जा मिलने के बाद नगर के मेन रोड पर आए दिन लगते जाम से छुटकारा पाने के लिए प्रशासन ने मैन रोड का चौड़ीकरण के लिए दोनों ओर निशान लगाकर उन्हे पांच दिन का समय दिया गया था। मंगलवार को पूरा होने के बाद सहसवान एसडीएम व नगर पंचायत कर्मचारी जब जेसीबी लेकर मेन मार्केट मे पहुंचे तो दुकानदारों में खलबली मच गई। इस दौरान दुकानदार अपनी दुकानों से सामान हटाने मे जुट गए।

सहसवान एसडीएम व तहसीलदार सहित नगर पंचायत के कर्मचारी जब नगर का मैन रोड चौड़ीकरण के लिए जेसीबी से अतिक्रमण हटाना शुरू किया गया। इससे दुकानदारों में हड़कंप मच गया। अस्थायी दुकानदार अपनी दुकानों से सामान बाहर निकालने लगे। इस कार्रवाई को देखने के लिए मैन मार्केट मै भीड़ लग गई। बही नगर के दुकानदारों ने दुकान तोडने के लिए दो दिन का समय मांगा है। एसडीएम सहसवान महीपाल ने बताया कि कुछ दुकानदारों ने दो दिन का समय मांगा है। दो दिन बाद फिर से सड़क के चौड़ीकरण के लिए जो निशान लगाए गए हैं, उस निशान से यह अपने अपने मकान व दुकानों को तोड़ लें, अन्यथा प्रशासन जेसीबी द्वारा हटवाया जाएगा। इस मौके पर थाना जरीफनगर पुलिस तैनात रही।

दाे माह से लापता युवक का नहीं मिला सुराग 

बजीरगंज थाना क्षेत्र के गांव खुर्रमपुर भमोरी निवासी सुरेश चंद्र माहेश्वरी के पुत्र शशांक माहेश्वरी लगभग दो माह से लापता हैं। जिसका अभी तक कोई पता नहीं चल सका। परिवार के लोगों को किसी अनहोनी की आशंका सता रही है। स्वजन के मुताबिक 25 जुलाई को थाने में तहरीर दी गई, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। इसे लेकर शशांक के भाई ने एसएसपी से लेकर आईजी व मुख्मंत्री के पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई, लेकिन फिर भी उसकी तलाश करने का कोई प्रयास नहीं किया गया।

बताया जा रहा है कि शशांक का कस्बा में रहने वाले अपने ही एक करीबी रिश्तेदार की लड़की से काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसको लेकर परिवार का आरोप है कि इन लोगों ने ही शशांक के साथ कोई घटना को अंजाम दिया है। फिलहाल पुलिस जांच कर रही है। इधर शशांक के बड़े भाई जयंत कुमार ने मुख्यमंत्री से भी गुहार लगाई है 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.