बरेली के इस फर्जी हास्पिटल पर पुलिस ने दी दबिश, कब्जे में लिए कागजात

Bareilly Police Action on Fake Hospital सुभाषनगर के बदायूं रोड स्थित फर्जी डिग्री व पंजीयन के सहारे चल रहे अस्पताल व ट्रामा सेंटर पर रविवार को सुभाषनगर पुलिस ने दबिश दी। अपना हास्पिटल शिवांश डेंटल केयर के नाम से चलता पूरा। वहां मरीज भी ठीक-ठाक संख्या में थे।

Ravi MishraMon, 06 Dec 2021 08:52 AM (IST)
बरेली के इस फर्जी हास्पिटल पर पुलिस ने दी दबिश, कब्जे में लिए कागजात

बरेली, जेएनएन। Bareilly Police Action on Fake Hospital : सुभाषनगर के बदायूं रोड स्थित फर्जी डिग्री व पंजीयन के सहारे चल रहे अस्पताल व ट्रामा सेंटर पर रविवार को सुभाषनगर पुलिस ने दबिश दी। अपना हास्पिटल शिवांश डेंटल केयर के नाम से चलता पूरा। वहां मरीज भी ठीक-ठाक संख्या में थे। मौजूद स्टाफ से पुलिस से घंटों पूछताछ की। बाद में अस्पताल से जुड़े कागजात जांच के लिए उठा लाई। जांच में यह भी सामने आया कि आरोपित शैलेंद्र पांडेय का असल नाम कुछ और है। पुलिस की कार्रवाई से अस्पताल में खलबली मची रही।

बता दें कि सुभाषनगर के बदायूं रोड स्थित अपना हास्पिटल की इज्जतनगर के कर्मचारी नगर निवासी सूर्य कुमार अग्निहोत्री ने आइजी से शिकायत की थी। आरोप लगाया था कि अस्पताल फर्जी डिग्री के सहारे चल रहा है। सीओ सेकेंड को जांच सौंपी गई तो उन्होंने सीएमओ से अस्पताल व डाक्टर के संबंध में जानकारी मांगी। सीएमओ ने रिपोर्ट में अस्पताल प्रबंधन द्वारा प्रयोग की जा रही मुहर व रजिस्ट्रेशन के मेडिकल काउंसिल में कोई रिकार्ड न होने की बात कही।

आरोप है कि बावजूद मामले में रिपाेर्ट दर्ज नहीं हुई। एसएसपी के आदेश पर आरोपित शैलेंद्र पांडेय, आशीष शर्मा और सुरेश शर्मा के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी की धाराओं में सुभाषनगर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की। इधर, पता चला कि आइजी द्वारा दी गई जांच को ही दबा दिया गया। लिहाजा, जांच में लापरवाही की जांच आइजी ने शाहजहांपुर के एडिशनल एसपी को सौंप दी। इसी के बाद से मामले में हड़कंप मचा हुआ है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.