Covid-19 के नए वेरिएंट Omicron का समीक्षा अधिकारी की परीक्षा में दिखा असर, जानिए कितने फीसद छात्रों ने छोड़ी परीक्षा

Covid-19 Omicron Effect in Review Officers Exam कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के देश में बढ़ते शाेर के बीच जिले के 45 परीक्षा केंद्रों पर समीक्षा अधिकारी की परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई। कोविड गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए आयोजित की गई इस परीक्षा में छा़त्र अनुपस्थित रहे।

Ravi MishraMon, 06 Dec 2021 07:58 AM (IST)
कोविड 19 के नए वेरिएंट ओमिक्रोन का समीक्षा अधिकारी की परीक्षा में दिखा असर

बरेली, जेएनएन। Covid-19 Omicron Effect in Review Officers Exam: कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के देश में बढ़ते शाेर के बीच जिले के 45 परीक्षा केंद्रों पर समीक्षा अधिकारी की परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई। कोविड गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए आयोजित की गई इस परीक्षा में करीब 57 प्रतिशत परीक्षा अनुपस्थित रहे। पहला पेपर सुबह साढ़े नौ बजे से साढ़े 11 बजे और दूसरा पेपर दोपहर ढाई बजे से साढ़े तीन बजे हुआ। परीक्षा से एक घंटे पहले ही अभ्यर्थियों को गेट में प्रवेश देना शुरू किया गया। पहला प्रश्न पत्र 140 नंबर और दूसरा प्रश्न पत्र 60 नंबर का था।

जिले के 45 केंद्रों पर समीक्षा अधिकारी की परीक्षा का आयोजन कराया गया। प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर एक-एक मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई, जबकि प्रत्येक तीन केंद्रों पर एक सेक्टर मजिस्ट्रेट को निरीक्षण के लिए लगाया गया। इस परीक्षा में 20256 नामांकित थे, जिसमें से 8768 अभ्यर्थियों ने ही परीक्षा दी, जबकि 11488 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे।

कोविड से बचाव को निश्शुल्क दिए मास्क

कोरोना से बचाव के लिए परीक्षा केंद्रों के गेट पर सारे इंतजाम किए गए। परीक्षा से पहले कक्षों को सेनेटाइजर कराया गया। इसके बाद गेट पर शरीर का तापमान और ऑक्सीजन लेवल दोनों की जांच की गई। वहीं जो अभ्यर्थी बिना मास्क लगाकर पहुंचे तो उन्हें निश्शुल्क मास्क देने के बाद ही कक्षों में प्रवेश कराया गया।

पूर्व में लीक हुए पेपर की भी रही चर्चा

समीक्षा अधिकारी की परीक्षा देने के लिए आए अभ्यर्थियों ने परीक्षा से बाहर निकलने के बाद एक ओर जहां प्रश्न पत्र के बारे में चर्चा की। इसके साथ ही पूर्व में आयोजित परीक्षाओं में लीक हुए पेपरों की भी चर्चा रही। अभ्यर्थियों के मन में पेपर लीक होने का खौफ भी था, जो आशंका के रूप में उनकी बातचीत से नजर आया।

अवनीश बोले, सरल थे पेपर

परीक्षा देने के लिए बेहजम खीरी से आए अभ्यर्थी अवनीश अवस्थी ने बताया कि सामान्य ज्ञान और हिंदी व्याकरण एवं शब्दकोश दोनों ही प्रश्न पत्र सरल थे। अगर पेपर लीक ना हुआ तो परीक्षा में अच्छे अंक आएंगे।

पहला प्रश्न पत्र कठिन था : प्रेम

बरेली के पवन विहार के निवासी प्रेम कुमार ने बताया कि पहला प्रश्न पत्र कठिन आया था लेकिन दूसरा प्रश्न पत्र हिंदी व्याकरण का था, जो सरल था। कहा कि आंसर-की जारी होने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कितने नंबर आएंगे।

इन खास प्रश्नों की रही चर्चा

उत्तर प्रदेश के किस मेले में हिंदू और मुसलमान दोनों आते हैं ?

भारत की संसद द्वारा आपदा प्रबंधन अधिनियम किस सन में पारित हुआ ?

अंग्रेजों के विरुद्ध बनारस विद्रोह का नेतृत्व किसने किया था ?

पंडित रामप्रसाद बिस्मिल को प्रदेश के किस शहर में फांसी दी गई थी?

उत्तर प्रदेश की कुल जनसंख्या में कार्य बल का प्रतिशत कितना है?

उत्तर प्रदेश डिफेंस कारिडोर में निवेश करने के लिए अगस्त 2021 में किस सरकारी उद्यम ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया था?

अंतरराष्ट्रीय आलू केंद्र का मुख्यालय कहां स्थित है?

शबरी संकल्प अभियान का किससे संबंध है?

समीक्षा अधिकारी परीक्षा शांतिपूर्ण और पारदर्शी तरीके से संपूर्ण कराई गई। जिले में कोई भी नकलची नहीं पकड़ा गया। सभी केंद्रों पर कोविड गाइडलाइन का अनुपालन कराते हुए ही परीक्षा कक्ष में अभ्यर्थियों को प्रवेश दिया गया। डा. आरडी पांडेय, एडीएम नगर, बरेली

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.