बंद कमरे में बैठक कर भाजपा प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल ने मंडल के नेताओं को दी नसीहत, बोले- जनता के बीच हो चुका जनप्रतिनिधियों का सर्वे

Sunil Bansal Meeting News दिल्ली में भाजपा सांसदों के साथ बैठक होने के बाद प्रदर्शन नहीं कर पाने वाले जनप्रतिनिधियों के टिकट कटने के आसार बने हैं। जनता के बीच पार्टी कामकाज और एजेंडा को लेकर सर्वे भी करवाया जा गया है।

Ravi MishraWed, 04 Aug 2021 09:09 AM (IST)
बंद कमरे में बैठक कर भाजपा प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल ने मंडल के नेताओं को दी नसीहत

बरेली, जेएनएन। Sunil Bansal Meeting News : दिल्ली में भाजपा सांसदों के साथ बैठक होने के बाद प्रदर्शन नहीं कर पाने वाले जनप्रतिनिधियों के टिकट कटने के आसार बने हैं। जनता के बीच पार्टी कामकाज और एजेंडा को लेकर सर्वे भी करवाया जा गया है। फीडबैक लिया गया है कि जनता जनप्रतिनिधियों को लेकर क्या राय रखती है। भाजपा सत्ता में दोबारा बने रहने के लिए जनता के बीच नए चेहरों के साथ चुनाव लड़ सकती है। यहीं वजह है कि सिविल लाइंस के भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में गोपनीय बैठक के दौरान बरेली मंडल के चुनिंदा जनप्रतिनिधियों और जिलाध्यक्षों के अतिरिक्त संगठन पदाधिकारियों को भी जगह नहीं दी गई।

भाजपा के प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल और बृज क्षेत्र के अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी, प्रदेश सहसंगठन महामंत्री कर्मवीर ने मंगलवार को बरेली पहुंचने के बाद पार्टी कार्यालय में पीलीभीत, बदायूं और शाहजहांपुर के जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। भाजपा सूत्रों के मुताबिक पंचायत चुनाव होने के बाद अब विधानसभा चुनाव की सीटों पर भाजपा के चेहरों को जिताने की रूपरेखा तैयार की गई।

कुछ ही दिनों में जनप्रतिनिधियों की गतिविधियां जनता के बीच बढ़ती नजर आने लगेंगी। बैठक में कहा कि तैयारी कर लें, क्योकि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सात अगस्त को ब्लॉक प्रमुखों के साथ बैठक करेंगे। इसमें जीते और हारे दोनों ही ब्लाक प्रमुख शामिल होंगे। खास बात ये है कि पार्टी से बगावत करके चुनाव लड़ने वाले ब्लॉक प्रमुख इस बैठक में शामिल नहीं हो सकेंगे। इसके बाद आठ अगस्त को प्रदेश अध्यक्ष बृज क्षेत्र के एमएलसी और एमएलए के साथ विधानसभा चुनाव की रणनीति पर चर्चा करेंगे।

भाजपा प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल की नसीहत और जनप्रतिनिधियाें का जनता के बीच सर्वे हाेने की बात जानने के बाद भाजपा नेताओं की चेहरों पर हवाईयां उड़ती नजर आ रही है। जनता के बीच सर्वे को लेकर जहां भाजपा नेता विधानसभा चुनाव टिकट को लेकर असमंजस में है, वहीं विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने गोपनीय रूप से अपनी रणनीति को जमीन पर उतारना शुरू कर दिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.