बरेली में मेडिकल स्टोर पर भी बिक रही अफीम, STF ने तस्कर को गिरफ्तार करके किया राजफाश

Opium Smuggler in Bareilly नशे के सामान का अड्डा बनते जा रहे बरेली में अभी तक ड्रग पैडलर के जरिये ही स्मैक-अफीम और अन्य नशीले पदार्थों की तस्करी के मामले सामने आ रहे थे। अब एक नए तरीके से नशे के सामान को बरेली में खपाया जा रहा है।

Samanvay PandeySat, 27 Nov 2021 11:52 AM (IST)
एसटीएफ ने एक तस्कर को गिरफ्तार करके इसका राजफाश किया है।

बरेली, जेएनएन। Opium Smuggler in Bareilly : नशे के सामान का अड्डा बनते जा रहे बरेली में अभी तक ड्रग पैडलर के जरिये ही स्मैक-अफीम और अन्य नशीले पदार्थों की तस्करी के मामले सामने आ रहे थे। लेकिन अब एक नए तरीके से नशे के सामान को बरेली में खपाया जा रहा है। एसटीएफ ने एक तस्कर को गिरफ्तार करके इसका राजफाश किया है। तस्कर का खुद का मेडिकल स्टोर है, वह उसी के जरिये अफीम की सप्लाई अपने ग्राहकों तक करता था। यानी बरेली में मेडिकल स्टोर की आड़ में बड़े स्तर पर अफीम खपाई जा रही थी। नेटवर्क उत्तराखंड व अन्य शहरों तक फैल चुका था। लंबे समय से एसटीएफ सर्विलांस के जरिए आरोपित के पल पल के बारे में जानकारी ले रही थी। शनिवार को एसटीएफ ने आरोपित तस्कर को धर लिया। तस्कर भानु सुभाषनगर का रहने वाला है। वह सुभाषनगर में ही मेडिकल स्टोर चलाता है। दवाओं के बीच अफीम रख सप्लाई कर रहा था। उसे हिरासत में ले लिया गया। टीम पूछताछ कर रही है।

फूफा के बाद तस्कर भतीजे की 13.50 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त करने के आदेश : ढाई लाख का इनामी तस्कर तैमूर उर्फ भोला की 13.50 करोड़ रुपए की संपत्ति अब जब्त होगी। गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए शुक्रवार को जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने तैमूर उर्फ भोला की 13.50 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने के आदेश दे दिए। अब तस्कर इस संपत्ति का न तो इस्तेमाल करेगा, न बेच सकेगा, न ही किसी को दान कर सकेगा। यह संपत्ति अब सरकार के कब्जे में होगी। जब्त संपत्ति पर शनिवार को पुलिस ताला डालेगी।

फतेहगंज पूर्वी के पढेरा का तस्कर शहीद खां उर्फ छोटे तैमूर उर्फ भोला का फूफा है। शहीद खां भतीजे सैफ के संग पकड़ा गया तो पता चला कि पूरा का पूरा कुनबा तस्करी के काम में लिप्त है। दो दशक से तस्करी के काम में लिप्त शहीद खां उर्फ छोटे ने न सिर्फ करोड़ों का साम्राज्य खड़ा किया बल्कि पूरे कुनबे को तस्करी के काम में लगा कर अकूत दौलत कमाई। शहीद खां से पहले तैमूर उर्फ भोला के कैरियर दिल्ली नारकोटिक्स के हत्थे चढ़े लेकिन, तैमूर फरार रहा। तैमूर के ऊपर दिल्ली पुलिस ने शुरुआत में 50 हजार का इनाम घोषित किया। फिर इनाम बढ़ाकर ढाई लाख रुपए कर दिया गया। इधर शहीद खां पर शिकंजा कस गया। पूरा कुनबा तस्करी में नामजद हो गया, जिसके बाद तैमूर उर्फ भोला ने दिल्ली की कोर्ट में सरेंडर कर दिया। इसी के बरेली पुलिस ने तस्कर कुनबे की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी।

विभागों से कराया संपत्तियों का मूल्यांकन : संबंधित विभागों से तस्करों की संपत्ति का मूल्यांकन कर रिपोर्ट तैयार कराई गई। सबसे पहले शहीद खां उर्फ छोटे की 51.65 करोड़ की संपत्ति चिह्नित कर सफेमा कोर्ट को भेजी गई जिसमें से सफेमा कोर्ट ने 50.99 करोड़ की संपत्ति सीज करने पर मुहर लगा दी। इधर, तैमूर उर्फ भोला पर गैंगस्टर की कार्रवाई के चलते चिह्नित उसकी 13.50 करोड़ की संपत्ति जब्त करने के लिए डीएम कोर्ट को रिपोर्ट भेजी गई जिसे शुक्रवार को जिलाधिकारी ने मंजूरी दे दी। लिहाजा अब पुलिस तैमूर उर्फ भोला की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई करेगी।एसएसपी रोहित सिंह सजवाण का कहना है कि गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई के तहत तस्कर तैमूर उर्फ भोला की 13.50 करोड़ की संपत्ति जब्त करने के लिए रिपोर्ट डीएम को भेजी गई थी जिस पर मुहर लग गई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.