Smack Smuggler in Bareilly : नवी हसन के बाद तस्कर सरताज के रेड रोज ढाबे पर बुलडोजर चलाने की तैयारी में बरेली प्रशासन

Smack Smuggler in Bareilly नवी हसन के बाद तस्कर सरताज के फरीदपुर हाईवे स्थित रेड रेड ढाबे पर भी पुलिस की नजर है। करोड़ों की कीमत से बना ढाबा भी तस्करों का अड्डा माना जाता है। तस्कर प्रधान शहीद खां के करीबियों में सरताज का नाम शामिल है।

Samanvay PandeyThu, 23 Sep 2021 05:40 PM (IST)
स्मैक तस्कर सरताज का बरेली के फरीदपुर स्थित रेड रोज ढाबा।

बरेली, जेएनएन। Smack Smuggler in Bareilly : नवी हसन के बाद तस्कर सरताज के फरीदपुर हाईवे स्थित रेड रेड ढाबे पर भी पुलिस की नजर है। करोड़ों की कीमत से बना ढाबा भी तस्करों का अड्डा माना जाता है। पूर्वी का तस्कर प्रधान शहीद खां उर्फ छोटे के करीबियों में सरताज का नाम शामिल है। पूछताछ में तस्कर शहीद खां ने तैमूर का भाई फरमान, गट्टू व सरताज का नाम कबूला था। लिहाजा, शहीद खां व उसके कुनबे के खिलाफ दर्ज मुकदमे की विवेचना में 16 नाम बढ़ाए गए थे। मुकदमे में कुल 25 तस्कर नामजद हुए थे। इसमे तस्कर सरताज का नाम भी शामिल है। फरीदपुर नगर पालिका तस्कर के ढाबे की पूरी कुंडली तैयार कर रही है। चर्चा है कि नवी हसन के बाद सरताज के ढाबे पर भी बुलडोजर चलाने की तैयारी पूरी कर ली गई है।

भमौरा के तस्कर बाप-बेटों की करोड़ों की संपत्ति होगी कुर्कः पढेरा, पश्चिमी के बाद भमौरा के तस्कर बाप-बेटों की संपत्ति भी कुर्क होगी। भमौरा के ग्राम मिलझ मझारा का रहने वाला हरप्रसाद, उसका बेटा अवधेश पत्नी पार्वती पुत्रवधू अवधेश समेत पूरा कूनबा तस्करी के काम में लिप्त मिला था। एक किलो अफीम के साथ सास-बहू को जेल भेज दिया गया था जबकि हरप्रसाद व अवधेश फरार हो गया था। तलाशी के दौरान घर से हरप्रसाद उसकी पत्नी पार्वती, पुत्र अवधेश व पुत्रवधु सोमवती के नाम से जमीन खरीदने के 18 बैनामे व छह अन्य लोगों के नाम के करोड़ों रुपये की संपत्ति के बैनामे मिले थे। महज पांच साल में बाप-बेटे ने यह संपत्ति खड़ी की थी। तस्कर के पूरे कुनबे के संपत्ति की कुर्क की तैयारी शुरू हो गई है।

अफीम तस्करी के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज : सिरौली थाना क्षेत्र में पकड़े गए अफीम तस्करी के आरोपित की जमानत अर्जी स्पेशल कोर्ट ने बुधवार को खारिज कर दी। पुलिस के मुताबिक बीते सात सितंबर को दारोगा अशोक कुमार ने चार तस्करों को अंजनी तिराहे से हिरासत में लिया था। चारों से पुलिस ने करीब सवा सात किलो अफीम बरामद की। जिसमें मुख्य आरोपित छत्रपाल निवासी ढकिया थाना अलीगंज से करीब साढ़े तीन किलो अफीम व पौने दो लाख की नकदी बरामद हुई। सरकारी वकील ने छत्रपाल की जमानत अर्जी का विरोध किया। स्पेशल जज एनडीपीएस एक्ट प्रण विजय सिंह ने जमानत अर्जी नामंजूर कर दी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.