Shahjahanpur Girl Student Burnt Case : छात्रा को निर्वस्त्र कर जलाने के मामले में पुलिस को खटक रहे अब ये सवाल

Shahjahanpur Girl Student Burnt Case : पुलिस को खटक रहे अब ये सवाल

Shahjahanpur Girl Student Burnt Case छात्र से सामूहिक दुष्कर्म के प्रयास और जलाने के मामले में पुलिस ने आरोपितों को थाने में तो बैठा लिया मगर साक्ष्य नहीं जुटा सकी है। गुरुवार को एसपी एस आनंद दोबारा घटनास्थल पर पहुंचे।

Ravi MishraFri, 26 Feb 2021 03:30 PM (IST)

बरेली, जेएनएन। Shahjahanpur Girl Student Burnt Case : छात्र से सामूहिक दुष्कर्म के प्रयास और जलाने के मामले में पुलिस ने आरोपितों को थाने में तो बैठा लिया, मगर साक्ष्य नहीं जुटा सकी है। गुरुवार को एसपी एस आनंद दोबारा घटनास्थल पर पहुंचे। दूसरी ओर पीड़ित छात्राा की हालत गुरुवार को बिगड़ गई। शरीर में दर्द व सूजन बढ़ने की वजह से उसे बोलने में अब दिक्कत होने लगी है।

क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली छात्र शहर के एसएस कालेज में बीए की छात्र है। सोमवार को सहेली के कहने पर वह कालेज से बाहर गई। आरोप है कि सहेली की बड़ी बहन का देवर व सहपाठी मनीष समेत तीन युवकों ने बाग में दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध पर केरोसिन डालकर आग लगा दी थी। उसी शाम को छात्र निर्वस्त्र जली हालत में राहगीरों को दिखी तो मौके पर पहुंची पुलिस ने लखनऊ भर्ती कराया था। मंगलवार को छात्रा ने पहली बार तीनों आरोपितों व सहेली का नाम लेकर पूरा घटनाक्रम बताया था। बुधवार की रात और गुरुवार सुबह को भी उसने वही बयान दोहराया। दोपहर से उसकी हालत बिगड़ने लगी।

कालेज नहीं गया मनीष, सहेली कैंपस में ही रही

अभी तक घटनाक्रम में पता चला कि सहेली के कहने पर छात्रा कालेज से निकली और मनीष रास्ते से पकड़कर बाग में ले गया। छात्रा का यह बयान इशारा कर रहा कि मामला पूर्व नियोजित था। कालेज आने से शक हो सकता है, इसलिए मनीष उस दिन नहीं आया। जाहिर है कि यदि होता तो कालेज से एक साथ बाहर निकलता और सीसीटीवी फुटेज में रिकार्ड हो जाता। वह नहीं आया और फुटेज में सिर्फ छात्रा दिखी। बाग में होने वाले घटनाक्रम का अंदाजा सहेली को भी हो सकता है, इसीलिए वह खुद कैंपस से नहीं गई। इन दोनों पर पुलिस शक पुख्ता कर रही, मगर जलाने की घटना पर संदेह है। दोपहर में बुलाना और आग लगा देना, पुलिसकर्मियों के गले नहीं उतर रहा। छात्र व मनीष के बीच परिचय कब से था, यह भी पता किया जा रहा है।

ये जवाब तलाश रही पुलिस

छात्रा मर्जी से कैंपस से निकली, उसकी कक्षा में पढने वाले मनीष से पूर्व परिचय था और कैंपस के बाहर उसका मिलना। यहां तक की कहानी पुलिस के गले उतर रही है। बाग में कुछ ऐसा हुआ, जिस कारण छात्र को आग लगी, यह बात भी स्वीकार रही है। मगर, पहचान होने के बाद भी आरोपित का सरेआम आग लगा देना, इसके बावजूद उसका घर में मिलना, भागने का प्रयास न करना। पुलिस इन सवालों के जवाब व साक्ष्य तलाश रही है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.