School Reopen in Bareilly : स्कूल आकर पढ़ने के साथ खुला रहेगा आनलाइन पढ़ाई का विकल्प

School Reopen in Bareilly 16 अगस्त से स्कूल परिसर फिर एक बार गुलजार हो जाएंगे। सोमवार को शासन की ओर से कक्षा नौवीं से बारहवीं तक के स्कूलों को खोलने के लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई। स्कूलों में भी तैयारियां शुरू कर दी गई है।

Samanvay PandeyTue, 03 Aug 2021 05:10 PM (IST)
अभिभावकों के मोबाइल पर पहुंचने लगे सहमति पत्र के संदेश।

बरेली, जेएनएन। School Reopen in Bareilly : 16 अगस्त से स्कूल परिसर फिर एक बार गुलजार हो जाएंगे। सोमवार को शासन की ओर से कक्षा नौवीं से बारहवीं तक के स्कूलों को खोलने के लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई। स्कूलों में भी तैयारियां शुरू कर दी गई है। अभिभावकों के मोबाइल पर सहमति पत्र के लिए संदेश भेजे जा रहे हैं। अच्छी खबर ये भी है कि स्कूल आकर पढ़ने के साथ बच्चों के लिए आनलाइन पढ़ाई का विकल्प भी बंद नहीं होगा।

अधिकतर अभिभावक ऐसे हैं जो तीसरी लहर की वजह से बच्चों को स्कूल भेजने के लिए अभी राजी नहीं हैं। ऐसे में छात्रों की पढ़ाई प्रभावित न हो उनके लिए आनलाइन पढ़ाई पहले की तरह जारी रहेगी। छात्रों को स्कूल भेजने के लिए अभिभावकों पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं होगा। कोविड प्रोटोकाल के साथ ही छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया जाएगा। स्कूल आने से पहले और कक्षाओं के खत्म हो जाने के बाद हर रोज सैनिटाइजेशन किया जाएगा।

आज से शुरू हो जाएंगी तैयारियां : सरकार की ओर से स्कूल खोलने के निर्देश के बाद स्कूल प्रबंधन गंभीर हो गया है। सेक्रेड हार्ट्स स्कूल की प्रधानाचार्य उर्मिला बाजपेयी ने बताया कि मंगलवार से सभी स्कूलों में अव्यवस्थित संसाधनों को दुरुस्त कराया जाएगा। साथ ही साफ-सफाई, हर रोज सैनिटाइजेशन के अलावा किस तरह कक्षाओं में शारीरिक दूरी के हिसाब से सीटिंग प्लान होगा। इस पर विचार किया जाएगा।

फिर दौड़ेंगे स्कूल बसों के पहिए : इंडीपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष व पद्मावती एकेडमी के चैरयमेन पारुष अरोड़ा ने बताया कि जिलेभर में 60 निजी स्कूल संचालित हैं। जहां 300 बस व करीब एक हजार छोटी गाड़िया हैं। स्कूल बंद होने की वजह से इनके पहिए जाम हुए तो वहीं कई चालक-परिचालक भी बेरोजगार हो गए। लेकिन, अब स्कूल खुलने के बाद इनको आर्थिक मदद मिलेगी और एक बार फिर बस के पहिए रफ्तार भरेंगे।

दो पालियों में संचालित होंगी कक्षाएं : विद्याभवन स्कूल के प्रधानाचार्य योहान कुंवर ने बताया कि 50 फीसदी उपस्थिति के साथ छात्रों को बुलाया जाएगा। इसमें सुबह 8 से 12 बजे और 12:30 से 4:30 बजे तक दो पालियों में कक्षाएं संचालित की जाएंगी। छात्रों के साथ ही शिक्षकों को मास्क लगाना आवश्यक होगा। बिना थर्मल स्क्रीनिंग के प्रवेश नहीं लिया जाएगा। वहीं इस दौरान स्पोर्ट्स पीरियड भी नहीं लगेगा।

एक समय पर लगेंगी आफलाइन व आनलाइन कक्षाएं : जीआरएम स्कूल के प्रधानाचार्य आरएस रावत ने बताया कि स्कूल खुलने के मद्देनजर लगभग पूरी तैयारियां हैं। आफलाइन कक्षाओं के साथ ही आनलाइन कक्षाओं को जारी रखा जाएगी। जूम मीटिंग पर कक्षाएं आफलाइन कक्षाओं के समयानुसार संचालित की जाएंगी। इसके अलावा शिक्षकों से समस्याओं का हल करने के लिए वाट्सएप ग्रुप चलते रहेंगे।

नान टीचिंग के साथ ही शिक्षक भी करेंगे कोविड प्रोटोकाल का पालन : जीडी गोएंका पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य अभिषेक श्रीवास्तव ने बताया कि नान टीचिंग स्टाफ के साथ ही शिक्षकों को कोविड प्रोटोकाल का पालन करना होगा। वहीं शिक्षकों को बिना मास्क के कक्षा में पढ़ाने की अनुमति नहीं होगी। बताया कि स्कूल बंद होने के दौरान चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को नहीं निकाला गया। उनको हर माह सैलेरी दी गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.