Rohilkhand University की बीसीए और बीबीए की परीक्षा में सचल दल ने तीन नकलची पकड़े

Rohilkhand University News रुविवि की प्रोफेशनल कोर्स की परीक्षाओं में दूसरे दिन गुरुवार को भी बरेली कालेज में नकल करते तीन नकलची पकड़े गए। पकड़े गए तीनों नकलची बीसीए-बीबीए के थे। तीनों को परीक्षा हाल में नकल करते हुए महाविद्यालय के आंतरिक सचल दल ने पकड़ा।

Samanvay PandeyFri, 24 Sep 2021 12:12 PM (IST)
तलाशी के दौरान तीन छात्रों के पास नकल बरामद हुई।

बरेली, जेएनएन। Rohilkhand University News : रुविवि की प्रोफेशनल कोर्स की परीक्षाओं में दूसरे दिन गुरुवार को भी बरेली कालेज में नकल करते तीन नकलची पकड़े गए। पकड़े गए तीनों नकलची बीसीए-बीबीए के थे। तीनों को परीक्षा हाल में नकल करते हुए महाविद्यालय के आंतरिक सचल दल ने पकड़ा। महाविद्यालय की चीफ प्राक्टर डा. वंदना शर्मा ने बताया कि गुरुवार को परीक्षा भवन में बीबीए-बीसीए के छात्रों की परीक्षा हो रही थी। सीसीटीवी कैमरों की मानीटरिंग में उन्हें कुछ परीक्षार्थी नकल करते दिखे। जिस पर उन्होंने महाविद्यालय के सचल दल को मौके पर भेजा। जहां तलाशी के दौरान तीन छात्रों के पास नकल बरामद हुई। तीनों छात्रों को यूएफएम में बुक करते हुए रुविवि को रिपोर्ट भेजी गई है। वहीं दूसरे दिन एलएलबी की परीक्षा में कोई नकलची नहीं पकड़ा गया।

परीक्षा ड्यूटी करने को लेकर शिक्षकों को मतभेद : बरेली कालेज में हो रही प्रोफेशनल कोर्स की परीक्षाओं में लगाई गई शिक्षकों की ड्यूटी पर पहले दिन से ही हंगामा हो रहा है। गुरुवार को स्थायी शिक्षकों के कमरों में ड्यूटी लगाने को लेकर शिक्षक संघ की आपत्ति को दरकिनार करते हुए प्राचार्य ने फैसला नहीं बदला। कमरों में नई ज्वाइनिंग वाले शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई थी पर गुरुवार को कमरों में ड्यूटी करने के लिए जूनियर शिक्षकों की जगह सीनियर शिक्षक पहुंच गए। महाविद्यालय में 150 से अधिक स्थायी व अस्थायी शिक्षक होने के बाद भी कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी बाहर से लोगों की लगाई गई है। महाविद्यालय ओटीएस का बिल विश्वविद्यालय को भेजता है। जिसे पास किया जाता है। शिक्षक संघ चुनाव नजदीक होने के चलते शिक्षक संघ के नेता पैरोकारी में लगे हैं। प्राचार्य के पास आपत्ति लेकर गए पर प्राचार्य ने राहत देने से मना कर दिया। इसके बाद गुरुवार को शिक्षक संघ के तमाम सीनियर शिक्षक एलएलबी की परीक्षा में ड्यूटी करने पहुंच गए। चर्चा है कि चुनाव से पहले वोट बैंक को साधने की यह एक कोशिश भर है। वहीं प्राचार्य डा. अनुराग मोहन ने सभी शिक्षकों को समान बताते हुए सभी से परीक्षा का सफल आयोजन कराने को कहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.