Rohilkhand University News : पंचायत चुनाव के कारण रुहेलखंड विश्वविद्यालय के कई विषयों का परीक्षा कार्यक्रम बदला

देर शाम परीक्षा नियंत्रक ने जारी किया संशोधित कार्यक्रम, विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी अपलोड की कार्यक्रम की सूची।

Rohilkhand University News महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय की ओर से पंचायत चुनाव के चलते बरेली और मुरादाबाद मंडल के जिलों में 15 19 व 26 अप्रैल को होने वाले मतदान के चलते संशोधित परीक्षा कार्यक्रम जारी किया है।संशोधित परीक्षा कार्यक्रम वेबसाइट पर भी देखा जा सकता है।

Samanvay PandeyTue, 13 Apr 2021 06:51 AM (IST)

बरेली, जेएनएन। Rohilkhand University News : महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय की ओर से पंचायत चुनाव के चलते बरेली और मुरादाबाद मंडल के जिलों में 15, 19 व 26 अप्रैल को होने वाले मतदान के चलते संशोधित परीक्षा कार्यक्रम जारी किया है। सोमवार देर शाम परीक्षा नियंत्रक संजीव कुमार ने संशोधित कार्यक्रम जारी किया। बताया कि संशोधित परीक्षा कार्यक्रम विवि की वेबसाइट पर भी देखा जा सकता है।

पंचायत चुनाव के चलते बीएएमएस, बीडीएस, बीएससी नर्सिंग, बीएससी कृषि, एमएससी कृषि, बीडीएस की परीक्षाओं का कार्यक्रम विश्वविद्यालय ने बदल दिया है। परीक्षा नियंत्रक संजीव कुमार ने बताया कि नए कार्यक्रम के अनुसार 15 अप्रैल को होने वाली अलग-अलग विषयों की परीक्षाएं अब 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 24 अप्रैल, 28 अप्रैल और 10 मई को होंगी। इसी तरह से 16 अप्रैल को होने वाली परीक्षाएं 23 अप्रैल, 28 अप्रैल, 1 मई व 11 मई को, 19 अप्रैल को होने वाली परीक्षाएं 24 अप्रैल, 3 मई व 12 मई को, 20 अप्रैल को होने वाली परीक्षाएं 4 मई व 13 मई को, 26 अप्रैल को होने वाली परीक्षाएं 5 मई व 15 मई को और 27 अप्रैल की परीक्षाएं 6 मई और 17 मई को होंगी।

विधि की मौखिक परीक्षा में छात्र हुए परेशान

बरेली। बरेली कॉलेज में विधि की मौखिक परीक्षा में सोमवार को छात्र परेशान हुए। परीक्षा देने पहुंचे छात्रों को नहीं पता था कि उन्हें कहां पर परीक्षा देनी है। शिक्षक भी देर से पहुंचे। इससे छात्रों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। सूचना पर प्रॉक्टोरियल बोर्ड की टीम पहुंची और व्यवस्था को संभाला। उसके बाद एलएलबी विभाग और परीक्षा भवन में मौखिक परीक्षाओं का आयोजन कराया गया। एक छात्र दूर से आने की वजह से दोपहर में देर से पहुंचा लेकिन तब तक छात्रों के नंबर चढ़ाए जा चुके थे। शिक्षकों ने इस छात्र के नंबर चढ़ाने से मना किया तो कई छात्र नेता उसे साथ लेकर प्राचार्य के पास पहुंचे और शिकायत की।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.