Rohilkhand University : बरेली में महाविद्यालयाें ने छात्रों को नहीं भेजी प्रयोगात्मक परीक्षाओं की सूचना

Rohilkhand University रुविवि ने शैक्षिक सत्र 2021-22 की परीक्षाओं की तैयारियां शुरु कर दी हैं। 2022 की प्रयोगात्मक व मौखिकी परीक्षाओं के लिए सभी महाविद्यालयों से छात्रों की संख्या और बैच की जानकारी मांगी है। जिसमें कई महाविद्यालयों ने अभी इसकी अभी तक सूची नहीं भेजी है।

Ravi MishraMon, 29 Nov 2021 08:58 AM (IST)
Rohilkhand University : बरेली में महाविद्यालयाें ने छात्रों को नहीं भेजी प्रयोगात्मक परीक्षाओं की सूचना

बरेली, जेएनएन। Rohilkhand University : रुविवि में शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के पाल्यों के प्रवेश के संबंध में कुलसचिव ने आदेश जारी किए है। इस बार सीटों के सापेक्ष प्रवेश को लेकर कुछ बदलाव किए गए हैं। जारी निर्देश के मुताबिक शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को विवि में संचालित बीफार्मा, एमबीए, एमसीए, बीटेक, एलएलएम, एमएड, एमए व एमएससी पाठ्यक्रमों में एक-एक पाल्य को एआइसीटीई व एनसीटीई आदि द्वारा निर्धारित सीटों के अधीन ही प्रवेश दिया जा सकता है।

किसी भी पाठ्यक्रम में शिक्षक व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के अर्ह उपलब्ध न होने पर रिक्त सीट परिवर्तित नहीं की जाएगी। सभी प्रवेश 26 नवंबर के बाद रिक्त सीटों पर ही अनुमन्य होंगे। यदि किसी पाठ्यक्रम में एक सीट रहती है तो फिर पाल्यों की संयुक्त मेरिट के आधार पर प्रवेश दिया जाएगा। जबकि इस मामले को लेकर कर्मचारियों का कहना है कि पूर्व में सभी पाठ्यक्रमों में एक सीट रिजर्व थी जो निर्धारित सीटों के अतिरिक्त थी।

प्रयोगात्मक परीक्षाओं की छात्रों को नहीं भेजी सूचना

रुविवि ने शैक्षिक सत्र 2021-22 की परीक्षाओं की तैयारियां शुरु कर दी हैं। 2022 की प्रयोगात्मक व मौखिकी परीक्षाओं के लिए सभी महाविद्यालयों से छात्रों की संख्या और बैच की जानकारी मांगी है। जिसमें कई महाविद्यालयों ने अभी इसकी अभी तक सूची नहीं भेजी है। इस पर परीक्षा नियंत्रक अशोक कुमार अरविंद ने एक बार फिर से सभी महाविद्यालयों के प्राचार्यों को 15 दिसंबर तक जानकारी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यदि समय पर सूची नहीं दी गई तो पूर्व की वर्ष की भांति छात्रों की संख्या व बैच निर्धारित कर दिए जाएंगे।

ऐसे महाविद्यालय जिनके द्वारा पूर्व में निर्धारित समय के अनुसार उनके महाविद्यालय में आंतरिक परीक्षकों के नाम नियुक्त करने के लिए विश्वविद्यालय को अभिलेख विश्वविद्यालय को प्रेषित नहीं किए हैं। वह किसी दशा में स्वीकार्य नहीं होंगे। अन्य राजकीय व अनुदानित महाविद्यालयों के नाम उपलब्ध करा दिए जाएंगे। वर्ष 2022 की प्रयोगात्मक व मौखिकी परीक्षाएं पूर्व की भांति अनुक्रमांकों के क्रम में 120 छात्रों के बैच बनाकर कराई जाएंगी। छात्रों के बैचों की संख्या में वर्तमान में प्रवेशित छात्रों की संख्या के आधार पर भेजेंगे। एक दिसंबर से विश्वविद्यालय के द्वारा छूटी हुई प्रयोगात्मक परीक्षाओं का आयोजन कराया जा रहा है। इसके लिए बरेली कालेज के अलावा अन्य महाविद्यालयों को केंद्र बनाया गया है।

कुलपति ने एंटी रैगिंग कमेटी गठित की

विवि परिसर में रैगिंग न हो व ऐसी होने वाली घटनाओं पर त्वरित कार्रवाई के लिए एंटी रैगिंग कमेटी गठित की है। विवि के चीफ प्राक्टर प्रो. जेएन मौर्य ने बताया कि कमेटी में कुलपति चेयरमैन, डीएसडब्ल्यू वाइस चेयरमैन, एडीएम, एसपी ट्रैफिक समेत कुल 14 लोगों की कमेटी बनाई गई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.