बरेली जिला कारागार में बंदी ने बैरक के शौचालय में फंदा लगाकर की खुदकुशी, एनडीपीएस एक्ट में जेल में बंद था

Prisoner committed suicide in Bareilly district jail बरेली जिला कारागार में बंद बंदी ने शुक्रवार देर रात बैरक के शौचालय में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना रात करीब पौने दो बजे की है।आत्महत्या करने वाला बंदी भूरा सिरौली के मकबरा गांव का रहने वाला था।

Samanvay PandeySat, 19 Jun 2021 11:54 AM (IST)
भूरा जिला जेल में इसी साल फरवरी में एनडीपीएस एक्ट में बंद किया गया था।

बरेली, जेएनएन।Prisoner committed suicide in Bareilly district jail : बरेली जिला कारागार में बंद बंदी ने शुक्रवार देर रात बैरक के शौचालय में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना रात करीब पौने दो बजे की है।आत्महत्या करने वाला बंदी भूरा सिरौली के मकबरा गांव का रहने वाला था। एनडीपीएस एक्ट में वह जेल में बंद था।भूरा जिला जेल में इसी साल फरवरी में एनडीपीएस एक्ट में बंद किया गया था। उसकी उम्र 51 वर्ष थी।

शुक्रवार रात जब बैरक के सभी बंदी सो गए तो वह शौचालय पहुंचा और वहां कुंडी पर गमछे का फंदा बनाकर लटक गया। भूरा के आत्महत्या करनेे की जानकारी तब हुई जब एक दूसरा बंदी शौचालय के लिए पहुंचा। उसने देखा कि भूरा फंदे पर लटका हुआ है। इस पर उसने सूचना जेल प्रशासन को दी। जेल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस की मौजूदगी में शव फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

जिला जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह ने बताया कि मौत के कारणों की जांच की जा रही है। भूरा के स्वजन को घटना की जानकारी दे दी गई है। बैरक में बंदियों में किसी प्रकार के झगड़े की संभावना से जेल प्रशासन ने इन्कार किया है।अधिकारियों का कहना है कि प्रथमदृष्टया भूरा ने आत्महत्या की है।जेल में कोई मारपीट नहीं हुई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत का असल कारण पता चल सकेगा।फिलहाल भूरा के आत्महत्या का कारण जानने के लिए उसके परिवार वालों से बात की जा रही है। भूरा के स्वजन जिला कारागार पहुंच चुके हैं।

40 ग्राम स्मैक के साथ दो तस्कर गिरफ्तार : पुलिस ने चेकिंग के दौरान 40 ग्राम स्मैक के साथ फतेहगंज पश्चिमी के दो तस्करों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। गुरुवार रात हाईवे पर सिंधौली चौराहे पर पुलिसकर्मी वाहन चेक कर रहे थे। रात लगभग 12 बजे बरेली की ओर से दो बाइकों से आ रहे युवक पुलिस को देखकर रुक गए। वापस फिर बरेली की ओर मुड़ गए। शक होने पर पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम मदन लाल निवासी लोहार नगला व राजबहादुर निवासी धौर सतुईया बताया थाना फतेहगंज पश्चिमी बताया। तलाशी में दोनों के पास से 20-20 ग्राम स्मैक बरामद हुई। दोनों को बाइकों के साथ पुलिस थाना ले आई। कोतवाल दयाशंकर ने बताया कि बाइक सीज करने के साथ दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.