गर्भवती महिला की प्रसव के दौरान निजी अस्पताल में हुई मौत, मायके वालों ने किया हंगामा

बरेली मंडल के बदायूं जिले के अलापुर थाना क्षेत्र के गांव रमनगला निवासी आकाश की पत्नी आशा को प्रसव पीड़ा होने पर स्वजन एंबलेंस से उसको अलापुर पीएचसी पर ले गए थे। जहां उसकी हालत गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

Sant ShuklaPublish:Thu, 01 Apr 2021 04:05 PM (IST) Updated:Thu, 01 Apr 2021 04:05 PM (IST)
गर्भवती महिला की प्रसव के दौरान निजी अस्पताल में हुई मौत, मायके वालों ने किया हंगामा
गर्भवती महिला की प्रसव के दौरान निजी अस्पताल में हुई मौत, मायके वालों ने किया हंगामा

बरेली, जेएनएन। बरेली मंडल के बदायूं जिले के अलापुर थाना क्षेत्र के गांव रमनगला निवासी आकाश की पत्नी आशा को प्रसव पीड़ा होने पर स्वजन एंबलेंस से उसको अलापुर पीएचसी पर ले गए थे। जहां उसकी हालत गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। आशा के ससुरालीजन उसको जिला अस्पताल के बजाए अलापुर के ही एक निजी अस्पताल में ले गए, जहां उसको भर्ती करा दिया। निजी नर्सिंग होम में उसकी हालत बिगड़ने पर डॉक्टर ने उसको बरेली रेफर कर दिया। बरेली ले जाते समय रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद स्वजन उसका शव लेकर गांव चले आए। इस बात की सूचना मिलते ही बुधवार रात करीब नौ बजे मृतका के मायके वाले रमनगला पहुंच गए। उन्होंने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। मामले की जानकारी होने पर एसएचओ अलापुर ओपी गौतम मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने किसी तरह से आक्रोशित मायके वालों को समझाकर शांत कराया। इसके बाद शव पोस्टमार्टम को भेजा गया। इस संबंध में एसएचओ का कहना है कि प्रथम दृष्टया प्रसव को ले जाते समय तबीयत बिगड़ने से महिला की मौत हुई है। पाेस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।