बरेली के गांवों में लोगों ने कोरोना को सतर्कता से दी मात

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तबाही मचाने के बाद अब शात हो चुकी है लेकिन कोरोना वायरस का खतरा खत्म नहीं हुआ। ऐसे में जरा सी लापरवाही जान पर भारी पड़ सकती है। जरूरी है सतर्कता और जागरूकता। इसी उद्देश्य के साथ दैनिक जागरण का महाभियान 100 गाव एक संकल्प जिले के ग्रामीणों को आयुष्मान रहने के मंत्र बता रहा है।

JagranSun, 20 Jun 2021 05:51 AM (IST)
बरेली के गांवों में लोगों ने कोरोना को सतर्कता से दी मात

बरेली, जेएनएन: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तबाही मचाने के बाद अब शात हो चुकी है, लेकिन कोरोना वायरस का खतरा खत्म नहीं हुआ। ऐसे में जरा सी लापरवाही जान पर भारी पड़ सकती है। जरूरी है सतर्कता और जागरूकता। इसी उद्देश्य के साथ दैनिक जागरण का महाभियान 100 गाव, एक संकल्प जिले के ग्रामीणों को आयुष्मान रहने के मंत्र बता रहा है।

लोग इसे आत्मसात कर रहे हैं और कोरोना से जीतने को तैयार हो रहे हैं। मास्क और दो गज दूरी के नियम का पालन करने के साथ ही बड़ी संख्या में ग्रामीण वैक्सीनेशन के लिए स्वत: आगे आ रहे हैं। शुक्रवार को दैनिक जागरण के महाभियान के साथ सीबीगंज क्षेत्र के तीन और गावों के लोग जुड़े। यहा शहर विधायक डा. अरुण कुमार ने भी सहभागिता दर्ज की। उन्होंने पौधारोपण कर लोगों को सेहत के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक किया। गाव : परसाखेड़ा गौटिया

दूसरी लहर में गाव में कोई नहीं हुआ संक्रमित

जासं, बरेली: परसाखेड़ा गौटिया गाव के लोगों ने इतनी सतर्कता बरती कि दूसरी लहर के दौरान कोई भी संक्रमित नहीं हुआ। गाव की जावित्री कश्यप कहती हैं कि दूसरी लहर शुरू होने से पहले ही मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग ग्रामीणों ने किया। गाव के लोग चाहे किराना की दुकान पर सामान लेने जा रहे हों या गेहूं काटने, मुंह पर मास्क और दो गज की दूरी बनी रही। इस वजह से कोरोना गाव में प्रवेश नहीं कर पाया। जागरण के महाभियान से लोग और जागरूक हुए और यहा बनी तोविड हेल्पडेस्क पर थर्मल स्कैनर व पल्स आक्सीमीटर से जा्च कराई। शुक्रवार को जब शहर विधायक डा. अरुण कुमार भी गाव में पहुंचे। उन्हें लोगों ने बताया कि बाहर से जो भी लोग आए, उन्हें पहले एक सप्ताह के लिए आइसोलेशन में रखा गया। ग्रामीणों की सजगता के चलते गाव कोरोना मुक्त रहा। यहा ग्रामीणों ने संकल्प लिया कि जागरण के अभियान के साथ मिलकर शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन पर जोर देंगे। गाव: मथुरापुर

पौधारोपण कर सेहत मित्रों को सौंपी गाव की सेहत की कमान

जासं, बरेली: मथुरापुर करीब 12 हजार की मिश्रित आबादी वाला गाव है। यहा साफ-सफाई का हाल अन्य गाव की तुलना में काफी बेहतर है। शहर विधायक डा. अरुण कुमार ने गाव में बरगद, पीपल, नीम, आम आदि के पौधे रोपकर ग्रामीणों को इन पौधों का मानव जीवन में महत्व समझाया। गाव की सेहत की कमान सेहतमित्रों ने संभाल ली। सेहत मित्र वेद प्रकाश व चमन राजपूत ने घर-घर जाकर उन्हें जागरूक किया। गाव के सेहतमित्र धर्मवीर साहू कहते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर में गाव में कई लोग संक्रमित हुए लेकिन लोगों ने अपनी समझदारी के कारण कोरोना पर विजय पाई। इस समय गाव में कोई भी संक्रमित नहीं है। गाव के लोग वैक्सीनेशन के प्रति भी जागरूक हैं। किसी ने पहली तो किसी ने दोनों डोज लगवा रखी हैं। सभी ने शहर विधायक डा. अरुण कुमार के सामने संकल्प लिया कि जल्द ही गाव का हर व्यक्ति टीकाकरण करा लेगा। गाव: सुनराशि

अच्छी सेहत के लिए पेड़-पौधे बहुत जरूरी

जासं, बरेली: सीबीगंज के सुनराशि गाव में दैनिक जागरण के महाभियान को लोग पहले ही आत्मसात कर चुके हैं। ग्रामीणों की सजगता के चलते यहा कोरोना संक्रमण कम रहा। गाव के सेहत मित्र नंदलाल लोधी, हरदयाल, सूरजपाल, श्याम सुंदर लोगों को मास्क वितरण के साथ ही वैक्सीनेशन के लिए जागरूक कर रहे हैं। गाव के अधिकतर लोगों ने वैक्सीन लगवा ली है। लोग मास्क और शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं। गाव में कई बार सैनिटाइजेशन हो चुका है। यहा के लोग भी गाव की साफ सफाई का खुद ही ध्यान रखते हैं। शहर विधायक डा. अरुण कुमार ने यहा पीपल, बरगद, नीम, तुलसी आदि के पौधे रोपे और ग्रामीणों को यह समझाया कि अच्छी सेहत और स्वच्छ पर्यावरण के लिए ये पेड़-पौधे कितने जरूरी हैं। उन्होंने यहा ग्रामीणों को इन पौधों का संरक्षण करने का संकल्प भी दिलाया। सभी ने एक स्वर से कहा कि जीत हमारी होगी और कोरोना हारेगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.