अब रामपुर आरपीएफ करेगी बरेली में पेंड्रोल क्लिप चोरी के मामले की जांच, सेवानिवृत्त सीनियर सेक्शन इंजीनियर समेत चार लोग हो चुके हैं गिरफ्तार

Pendrol Clip Theft Case बरेली जंक्शन आरपीएफ ने 31 जुलाई को 2.13 करोड़ के टेंडर में खेल पकड़ा गया था। मामले में दो सेवानिवृत्त सीनियर सेक्शन इंजीनियर समेत चार लोगों को जेल भेजा जा चुका है। ठेकेदार राजेश खन्ना की तलाश में लगी थीं टीम।

Samanvay PandeyThu, 23 Sep 2021 02:50 PM (IST)
सीबीगंज सेंट्रल रेलवे गोदाम से बड़ी संख्या में पेंड्रोल क्लिप चोरी होने का मामला 31 जुलाई को पकड़ा गया था।

बरेली, जेएनएन। Pendrol Clip Theft Case : बरेली जंक्शन आरपीएफ ने 31 जुलाई को 2.13 करोड़ के टेंडर में खेल पकड़ा गया था। मामले में दो सेवानिवृत्त सीनियर सेक्शन इंजीनियर समेत चार लोगों को जेल भेजा जा चुका है। ठेकेदार राजेश खन्ना की तलाश में लगी थीं टीम। आइजी आरपीएफ ने भी मामले में जांच की थी। अब पूरे मामले की जांच रामपुर आरपीएफ को दी गई है। 31 जुलाई को बरेली जंक्शन आरपीएफ और मुरादाबाद एसआइबी ने सीबीगंज सेंट्रल रेलवे गोदाम से बड़ी संख्या में पेंड्रोल क्लिप चोरी का मामला पकड़ा था। 2.14 करोड़ के टेंडर में कुछ जगह रेलवे ट्रैक पर काम किया गया, जबकि टेंडर में बरेली, आंवला, बिशारतगंज, चंदौसी और मुरादाबाद में ट्रैक मेंटिनेंस के काम होने थे।

मामले में आरपीएफ की ओर से सेवानिवृत्त सीनियर सेक्शन इंजीनियर दिनेश कुमार लोहानी और मुरादाबाद के सीनियर सेक्शन इंजीनियर ओम प्रकाश शर्मा, ट्रक चालक राहुल कश्यप ठेकेदार राजेश खन्ना के मुंशी छुट्टन और चोरी की पेंड्रोल क्लिप छुपाने के आरोपित मथुरापुर सीबीगंज के अफजल को पहले ही जेल भेजा जा चुका है। जबकि मुख्य आरोपित ठेकेदार राजेश खन्ना व चंदौसी एसएसई अभी भी फरार चल रहे हैं। आरपीएफ थाना प्रभारी निरीक्षक विपिन कुमार शिशौदिया ने बताया कि 60 दिनों से आरोपित राजेश खन्ना की तलाश में गाजियाबाद, मुरादाबाद, दिल्ली सब जगह टीम के साथ छापामारी की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा। मंडल सुरक्षा आयुक्त आरपीएफ मनोज कुमार ने इस मामले की जांच अब बरेली से रामपुर आरपीएफ को ट्रांसफर कि है। आरपीएफ रामपुर निरीक्षक राकेश यादव अब इस मामले की जांच करेंगे।

रेल यात्री ने कर्मचारी पर लगाया मोबाइल फोन चोरी का आरोप : जंक्शन वेटिंग हाल में एक यात्री का मोबाइल छूट गया। यात्री ने स्टेशन पर तैनात एक चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी पर मोबाइल चोरी का आरोप लगाया। जानकारी पर पहुंची आरपीएफ ने मोबाइल वेटिंग हाल से ही बरामद किया। सिविल लाइंस स्थित भटनागर कालोनी निवासी युवक ने बताया कि वह अपनी मां के साथ बरेली-बनारस एक्सप्रेस के जरिए लखनऊ से बरेली पहुंचा था। जहां फ्रेश होने के लिए वह वेटिंग रूम में गया था। उसका फोन मां के पास था। जिन्होंने फोन को वेटिंग रूम के आगे बैठी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के बक्से पर रख दिया। इसके बाद स्मार्ट फोन गायब हो गया। हंगामा कर रहे मां-बेटे ने जंक्शन आरपीएफ थाने जाकर पूरे मामले से अवगत कराया। जहां आरपीएफ उप निरीक्षक चांदनी ने वेटिंग हाल से ही मोबाइल बरामद कर उनके सुपुर्द किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.