बरेली में तीन रोजा उर्से तहसीनी में मुरीदों ने लगाई हाजिरी

बरेली में तीन रोजा उर्से तहसीनी में मुरीदों ने लगाई हाजिरी

तीन रोजा उर्स का आगाज फज्र की नमाज के बाद कुरआन ख्वानी से हुआ। इशा की नमाज के बाद खानकाह के अंदर ही तरही नातिया मुशायरे की नूरानी महफिल सजी। सज्जादानशीन मौलाना हस्सान रजा खां नूरी ने बताया कि उर्स की सभी तकरीबात ऑनलाइन भी होंगी।

Ravi MishraTue, 02 Mar 2021 05:40 PM (IST)

बरेली, जेएनएन। Urs E Tehsini News : तहसीन रजा खां का सालाना तीन रोजा उर्स सोमवार को शुरू हो गया। उर्स में तमाम मुरीदों ने आकर हाजिरी लगाई और चादरपोशी की। लोगों से ऑनलाइन भी उर्स में शिरकत करने की अपील की गई। इसके साथ ही कोविड के प्रति एहतियात भी रखी गई।

तीन रोजा उर्स का आगाज फज्र की नमाज के बाद कुरआन ख्वानी से हुआ। इशा की नमाज के बाद खानकाह के अंदर ही तरही नातिया मुशायरे की नूरानी महफिल सजी। सज्जादानशीन मौलाना हस्सान रजा खां नूरी ने बताया कि उर्स की सभी तकरीबात ऑनलाइन भी होंगी।

उन्होंने अकीदतमंदों से उर्स में ऑनलाइन शिरकत करने की अपील की। दरगाह के प्रवक्ता सगीरउद्दीन नूरी ने बताया कि शाहदाना रेलवे ग्राउंड और दरगाह तहसीनी पर चल रहे उर्से तहसीनी के पहले दिन नातो मनकबत के नजराने पेश किए गए। फातिहा और सलातो सलाम के बाद साहिबे सज्जादा ने दुआ की।

अकीदतमंद और उलमा की टीम ने चादरपोशी और गुलपोशी की। इशा की नमाज के बाद खानकाह में जश्न ए नातो मनकबत और मुशायरे की नूरानी महफिल सजाई गई। शायरों ने अपने अपने अंदाज में नातो मनकबत के नजराने पेश किए।

सज्जादानशीन मौलाना हस्सान रजा खां नूरी ने बताया कि उर्स के सभी प्रोग्राम ऑनलाइन भी होंगे। उर्स कमेटी ने साबुन और पानी का इंतजाम भी किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मंगलवार को तमाम जगहों से दरगाह पर चादरों का जुलूस की आमद होगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.