किसानों का धान तुलवाने के लिए विधायक ने मंडी समिति में डाला डेरा

विधायक ने कहा वह यहां से तब तक नहीं जाएंगे, जब तक सभी किसानों का धान नहीं तुल जाएगा।

आरएफसी क्रय केंद्र पर बताया गया कि केंद्र प्रभारी मीटिंग में गए हैं इसलिए तौल नहीं हो रही है। मंडी परिसर में आरएफसी के-दो पीसीएफ के-दो मंडी समिति व नैफेड का एक-एक क्रय केंद्र है। इसके बाद भी धान की तौल नहीं हो पा रही है।

Publish Date:Fri, 04 Dec 2020 05:37 PM (IST) Author: Samanvay Pandey

बरेली, जेएनएन। आंवला केे क्रय केंद्र पर किसानों के धान की तौल कराने के लिए विधायक धर्मपाल सिंह ने मंडी समिति परिसर में चार घंटे तक डेरा डाला, तब कहीं जाकर धान की तौल हो सकी। मौके से ही विधायक ने डीएम को फोन किया। इसके बाद एसडीएम मौके पर पहुंचे।

आरएफसी क्रय केंद्र पर बताया गया कि केंद्र प्रभारी मीटिंग में गए हैं, इसलिए तौल नहीं हो रही है। मंडी परिसर में आरएफसी के-दो, पीसीएफ के-दो, मंडी समिति व नैफेड का एक-एक क्रय केंद्र है। इसके बाद भी धान की तौल नहीं हो पा रही है। यहां मौजूद कुंडरिया खुर्द के प्रेमपाल पूरी, टाह के अनूप व रविन्द्र, बहजुइया के रनवीर, प्रह्लादपुर के ओमप्रकाश शर्मा, बहोड़ा के हरपाल, महिपाल ,अमरौली के जगदीश वर्मा, पालमपुर गौटिया के रामपाल, कसूमरा के मोहनलाल पाल, नगरिया के भूरे सहित डेढ़ दर्जन किसानों ने विधायक धर्मपाल को बताया कि वे कई दिनों से यहां पर धान तुलवाने के लिए ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर खड़े हैं, लेकिन उनका धान नहीं तौला जा रहा है। विधायक ने कहा वह यहां से तब तक नहीं जाएंगे, जब तक सभी किसानों का धान नहीं तुल जाएगा। वह नगर पालिका चेयरमैन संजीव सक्सेना व दो दर्जन भाजपा कार्यकर्ताओं को लेकर धान क्रय केंद्रों के समीप बैठ गए। इसकी सूचना एसडीएम को दी, लेकिन तौल शुरू नहीं हो सकी। बाद में उन्होंने जिलाधिकारी को सारी स्थिति से अवगत कराया। उसके कुछ देर बाद एसडीएम कमलेश कुमार मौके पर पहुंचे। केंद्र प्रभारी राजेश कुमार यादव भी आनन-फानन में वहां आ गए। उसके बाद किसी तरह तौल शुरू हो सकी। किसानों का आरोप था कि क्रय केंद्रों पर प्रति क्विंटल धान पर सौ से दो सौ रुपये अलग से मांगे जा रहे हैं। आरोप है कि न देने वालों के धान डिग्रेट बताकर वापस किए जा रहे हैं। इस पर विधायक ने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने एसडीएम से कहा कि क्रय केंद्रों पर विशेष ध्यान दें, जिससे किसानों का शोषण न हो सके। विधायक लगभग चार घंटे तक वहां डटे रहे। इस संबंध में क्रय केंद्र प्रभारी राजेश यादव ने बताया कि कुछ किसान महीन धान जबरन बेचना चाहते हैं। न लेने पर आरोप लगाते हैं। उन्हें केवल मोटे धान ही खरीदने के आदेश हैं। युवा नेता यशवंत, प्रभाकर शर्मा, हरीश चौहान, कुलदीप श्रीराम गौतम आदि मौजूद रहे। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.