Malaria in Badaun : मच्छरों के निशाने पर बदायूं के दो गांव, लगातार बढ़ रहे मलेरिया के रोगी, जानिए ताजा स्थिति

Malaria in Badaun मलेरिया और वायरल बुखार का प्रकोप जिले में तेजी से बढ़ता जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने जिले में चार ब्लाकों को चिन्हित किया था जहां सबसे अधिक मरीज मिल रहे थे। इसमें जगत सलारपुर समरेर और दातागंज शामिल थे।

Ravi MishraSat, 18 Sep 2021 05:15 PM (IST)
Malaria in Badaun : मच्छरों के निशाने पर बदायूं के दो गांव, लगातार बढ़ रहे मलेरिया के रोगी

बरेली, जेएनएन। Malaria in Badaun : मलेरिया और वायरल बुखार का प्रकोप जिले में तेजी से बढ़ता जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने जिले में चार ब्लाकों को चिन्हित किया था, जहां सबसे अधिक मरीज मिल रहे थे। इसमें जगत, सलारपुर, समरेर और दातागंज शामिल थे। बता दें कि बीते कुछ दिनों में समरेर, सलारपुर और जगत में फैल्सीपेरम के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। स्वास्थ्य विभाग की जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार भी शनिवार को सलारपुर और जगत ब्लाक के दो गांवों में फैल्सीपेरम और मलेरिया के तीन तीन मरीज मिले हैं।

जिले भर में शनिवार को कुल 1968 जांचें की गईं। इसमें मलेरिया के 16 और फैल्सीपेरम के तीन मरीज मिले हैं। इसमें अंबियापुर के गांव सबदलापुर में एक, पिंडारा में एक, सलारपुर के हसनगर में एक, जगत के महोरा में एक, मर्रई में एक, आसफपुर में एक, उझानी के अब्दुल्लागंज में एक, अल्हापुर में एक, समरेर के महताबपुर में तीन, नवलापुर में एक, उरैना में एक, वजीरगंज के दौलतपुर गौटिया में एक, टिकुरी में एक मरीज मलेरिया का मिला है। इसके अलावा जगत के मर्रई में फैल्सीपेरम का एक और सलारपुर के हसन नगर में फैल्सीपेरम के दो मरीज मिले हैं। बता दें कि जिले में अब तक मलेरिया के 1037 जबकि फैल्सीपेरम के 85 मरीज मिल चुके हैं। जिसमें 269 मलेरिया के जबकि फैल्सीपेरम के 11 सक्रिय मरीज हैं।

73 तालाबों में छोड़ी जा चुकीं गंबूजिया मछली

जिले में बढ़ रहे मलेरिया के मरीजों की संख्या को रोकने के लिए तालाबों में गंबूजिया मछली छोड़ी जा रही हैं। अब तक जिले के 73 तालाबों में मछली छोड़ी जा चुकी हैं, जबकि मछली छोड़ने के तालाबाें को चिन्हित किए जाने का कार्य जारी है। जल्द ही अन्य तालाबों में भी मछली छोड़ी जाएंगी।

19315 घर किए गए चैक

मच्छरों का लार्वा ढूंढने के लिए डोमेस्टिक ब्रीडर चैकर्स की टीमों को लगाया गया है। जिले में कुल 35 टीमें इस कार्य में लगी हैं। इन टीमों ने अब तक 19315 घरों को चैक किया और मच्छरों के लार्वा को नष्ट किया है।

मलेरिया बुखार को रोकने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। सभी संवेदनशील ब्लाकों में टीमें लगी हुई हैं। यह बात सही है कि बीते कुछ दिनों से फैल्सीपेरम के केस बढ़े हैं। इसके लिए सभी जगह टीमें लोगाें की जांच कर रही हैं। - योगेश कुमार सारस्वत, जिला मलेरिया अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.