Leopard in Shahjahanpur : शाहजहांपुर में फिर दिखा तेंदुआ, वन विभाग ने पिंजरे के पास बांधा बकरा

Leopard in Shahjahanpur उत्तर प्रदेश के जनपद शाहजहांपुर में 15 दिन से तेंदुआ चहलकदमी कर रहा है लेकिन वन विभाग की टीम उसे पकड़ने में नाकाम साबित हो रही है। मंगलवार की शाम को भी क्षेत्र में तेंदुआ देखा गया। वन विभाग ने पिंजरेे के पास बकरा बांधा है।

Samanvay PandeyThu, 23 Sep 2021 12:49 PM (IST)
विकासखंड ददरौल के घुसगवां गांव के मजरा यादव गौटिया में तेंदुए को पकड़ने के लिए लगाया गया पिंजरा।

बरेली, जेएनएन। Leopard in Shahjahanpur : उत्तर प्रदेश के जनपद शाहजहांपुर में 15 दिन से तेंदुआ चहलकदमी कर रहा है, लेकिन वन विभाग की टीम उसे पकड़ने में नाकाम साबित हो रही है। मंगलवार की शाम को भी क्षेत्र में तेंदुआ देखा गया। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने पिंजरेे के पास एक बकरा भी बांधा है। इसके अलावा इंफ्रारेड कैमरों की संख्या भी बढ़ाई गई।

विकासखंड ददरौल के घुसगवां गांव के मजरा यादव गौटिया में 29 अगस्त के बाद से कई बार तेंदुआ देखा जा चुका है। मंगलवार शाम को भी ग्रामीण जब खेत पर पहुंचे तो वहां तेंदुआ की चहलकदमी देखी गई। इसके बाद वन विभाग की टीम रात में ही गांव पहुंची। नलकूप आपरेटर सत्यपाल सिंह यादव के आवास के पीछे लगाए गए पिंजरा के पास बकरा भी बांधा गया है ताकि उसका शिकार करते समय पकड़ा जा सके। बीते एक सप्ताह से वन विभाग की टीम देर रात तक गांव में डेरा डाले रहती है। इसके अलावा दिन में भी कांबिंग की जा रही है। वहीं विकासखंड भावलखेड़ा के जमालपुर गांव में अब तक वन विभाग की टीम तेंदुए के पगमार्क के पीछे-पीछे ही दौड़ लगा रही है। डीएफओ आदर्श कुमार ने बताया कि टीमें लगातार प्रयासरत है।

तिलहर में बाइक सवारों को दिखा तेंदुआ : क्षेत्र के शिवदासपुर गांव निवासी प्रमोद यादव व पंकज यादव मंगलवार रात बाइक से अपने घर जा रहे थे। रास्ते में फतेहपुर बुजुर्ग गांव के पास उन्हें तेंदुआ दिखाई दिया। दोनों लोग बाइक रास्ते में ही छोड़कर भाग खड़े हुए। उन्होंने पड़ोस के गांव फतेहपुर बुजुर्ग में जाकर अपनी जान बचाई। उन्होंने ग्रामीणों को भी इसकी जानकारी दी। जिससे वहां अफरा-तफरी मच गई। गांव के ही धीरेंद्र सिंह यादव ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद वन दारोगा अजय कुमार सिंह रात में ही टीम के साथ गांव पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों के साथ काफी देर तक कांबिंग भी की लेकिन कहीं पगमार्क नहीं मिले। वन दारोगा अजय कुमार सिंह ने बताया जिस स्थान पर तेंदुआ देखे जाने के बारे में बता रहे है वहां कोई पगमार्क नहीं मिले है। फिर भी क्षेत्र में नजर रखी जाएगी।

जमालपुर में तेंदुए ने किया गाय का शिकार : तेंदुए ने मंगलवार रात बेसहारा गाय का शिकार कर लिया। बुधवार सुबह गाय के अवशेष मिलने पर ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी। जिसके बाद वहां पिंजरा बांधा गया।  विकासखंड भावलखेड़ा के जमालपुर गांव में बीते 15 दिनों से तेंदुए की दहशत है। जंगली सुअर समेत कई पशुओं का शिकार भी कर चुका है। बुधवर सुबहह गांव के बाहर सड़क किनारे गन्ने के खेत में एक बेसहारा गाय का शव देखा गया। मौके पर पगमार्क मिलने पर ग्रामीणों ने वन क्षेत्राधिकारी आरपी सिंह को सूचना दी गई। जिसके बाद टीम गांव पहुंची। पगमार्क तेंदुए के होने की वजह से वन विभाग की टीम ने वहां पिंजरा लगाया।

वहीं विकासखंड ददरौल के घुसगवां गांव के मजरा यादव गौटिया में 29 अगस्त के बाद से कई बार तेंदुआ देखा जा चुका है। मंगलवार शाम को भी ग्रामीण जब खेत पर पहुंचे तो वहां तेंदुआ की चहलकदमी देखी गई। इसके बाद डीएफओ ने रात में ही टीम को गांव भेजा। नलकूप आपरेटर सत्यपाल सिंह यादव के आवास के पीछे लगाए गए पिंजरा के पास एक बकरा भी बांधा गया है ताकि उसका शिकार करते समय पकड़ा जा सके। बीते एक सप्ताह से वन विभाग की टीम देर रात तक गांव में डेरा डाले रहती है। इसके अलावा दिन में भी कांबिंग की जा रही है। डीएफओ आदर्श कुमार ने बताया कि जमालपुर गांव में गाय का तेंदुआ ने शिकार किया है। ग्रामीणों को खेत पर अकेले न जाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा अन्य क्षेत्रों में भी कांबिंग कराई जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.