रिश्तों का कत्ल, बेटे की हत्या के बाद पिता पर टूटा मुसीबतों का पहाड़

रिश्तों का कत्ल, बेटे की हत्या के बाद पिता पर टूटा मुसीबतों का पहाड़
Publish Date:Thu, 16 Jul 2020 08:07 PM (IST) Author: Narendra Kumar

पीलीभीत। जिले के बीसलपुर में बड़े बेटे व बहू द्वारा द्वारा छोटे बेटे को गला घोटकर मौत के घाट उतार देने से वृद्ध बाबूराम पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। उसने जवान एक बेटे को खो दिया। वहीं दूसरा बेटा व बहू को जेल की सलाखों के पीछे जाने से वह पूरी तरह से बेसहारा हो गया। हादसा उसके लिए बड़ा मुसीबत हो गया है।

नगर के मुहल्ला दुर्गा प्रसाद निवासी बाबूराम राजपूत ने कभी सोचा भी नहीं था की उनका पुत्र ओमपकाश अपनी पत्नी की मदद से उनके छोटे पुत्र वेद प्रकाश की हत्या कर घर की सारी खुशियों का दुश्मन बन जाएगा। इस हत्याकांड में वृद्ध अपनी सुध बुध खो बैठा है उसने जवान बेटे को खोया है वही इस हत्याकांड में बड़े बेटे ओमप्रकाश बा उसकी पत्नी के जेल जाने से उस पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। बुढ़ापे में अब उसका कौन सहारा बनेगा यह सोच सोच कर वह परेशान है। कल तकउसके घर में खुशी का माहौल बना हुआ था परंतु बेटे की मौत के बाद सारी खुशियों को ग्रहण लग गया है। जो भाई अपने छोटे भाई से बेइंतहा प्रेम करता था वही उसकी जान का दुश्मन बन गया। गला घोटकर बेरहमी से छोटे भाई को मौत की नींद सुला दिया और जब घटना को अंजाम दे दिया तो पति पत्नी ने बाबूराम के सामने रोते हुए उनसे माफी मांगी थी परंतु तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.