Jaganlal Murder Case: भाभी ने सुपारी किलर से कराई थी दस पत्नियों के पति की हत्या, संपत्ति के लिए बेटे के साथ मिलकर रची थी साजिश

Jaganlal Murder Case: भाभी ने सुपारी किलर से कराई थी दस पत्नियों के पति की हत्या

Jaganlal Murder Case बरेली के गांव मांडा के जागनलाल की हत्या संपत्ति हथियाने के लिए उनकी ही भाभी ने कराई। भाभी ने बेटे संग बकायदा जागनलाल की हत्या की साजिश रची। तय साजिश के तहत जागनलाल की हत्या की गई।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 10:52 AM (IST) Author: Ravi Mishra

बरेली, जेएनएन। Jaganlal Murder Case: बरेली के गांव मांडा के जागनलाल की हत्या संपत्ति हथियाने के लिए उनकी ही भाभी ने कराई। भाभी ने बेटे संग बकायदा जागनलाल की हत्या की साजिश रची। तय साजिश के तहत जागनलाल की हत्या की गई। हत्या का राजफाश हुआ तो सामने आया कि हत्या के लिए सुपारी किलर की मदद ली गई। सुपारी किलर से दो लाख रुपये में बात तय हुई थी जिसमें से 35 हजार रुपये उसे एडवांस भी दे दिए गए थे। मामले में पुलिस ने आरोपित जागनलाल की भाभी मुन्नी देवी, उनके बेटे दर्शन सिंह, देव सिंह व प्रहलाद यादव को गिरफ्तार कर लिया है। सुपारी किलर अलीगंज का कालीचरण फरार है।

बता दें कि गांव मांडा निवासी जागनलाल मंगलवार शाम को खाना खाना के बाद जागनलाल टहलने निकले थे। इसके बाद बुधवार को घर के पीछे खेत में उनका शव मिला था। गले में मफलर का फंदा कसा था और उन्हें पेड़ से बांधा गया था। पूछताछ में सामने आया कि जागनलाल के पास 14 बीघे जमीन थी, जो नैनीताल हाईवे किनारे स्थित है। जागनलाल के कोई बच्चा नहीं था। बलवीर बेटे की तरह उसकी सेवा करता था। इसके चलते ही जागनलाल अपनी पूरी संपत्ति बलवीर के नाम वसीयत कराना चाहता था। इसी बात की जानकारी जागनलाल की भाभी मुन्नी देवी को हुई तो उसने बेटे दर्शन सिंह के साथ हत्या की साजिश रची।

मुन्नी ने मायके के जानने वाले प्रहलाद निवासी हाफिजगंज को पूरी बात बताई। प्रहलाद ने अपने बहनोई देव सिंह निवासी भोजीपुरा से पूरा मामला साझा किया। इसके बाद देव ने मुन्नी देवी को कालीचरण से मिलवाया और आरोपित द्वारा सुपारी लेकर हत्या किए जाने की बात बताई। दो लाख रुपये में बात तय हुई। मुन्नी ने 35 हजार रुपये एडवांस दे भी दिए। इसके बाद मंगलवार को आरोपितों ने घटना को अंजाम दिया। देव, प्रहलाद व कालीचरण ने गला दबाकर जागनलाल की हत्या की। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने प्रेस कांफ्रेंस कर घटना का राजफाश किया।

प्रहलाद व देव को मिलनी थी छह बिसवा जमीन

जागनलाल की हत्या के बदले प्रहलाद व देव को छह बिसवा जमीन मिलनी थी। काम के बदले इनाम के रूप में मुन्नी देवी ने लिखित रूप से दोनों को इस छह बिसवा जमीन देने की सहमति दी थी। छह बिसवा जमीन लाखाें की कीमत की बताई जा रही है।

आरोपितों ने घर का दरवाजा कर दिया था बंद

वारदात को अंजाम देते समय घर का दरवाजा बाहर से बंद कर लिया। इसके बाद बड़ी तसल्ली से वारदात को अंजाम दिया। हत्या के बाद सभी भाग गए। सुबह खुद मुन्नी देवी ने जागनलाल की हत्या की बात सभी को बताई। खेत में शव पड़ा होने की जानकारी दी।

सुपारी किलर पर दर्ज हैं कई मुकदमें

सुपारी किलर कालीचरण का लंबा आपराधिक इतिहास है। उसके ऊपर भोजीपुरा थाने के साथ अलीगंज थाने में हत्या के साथ-साथ कई गंभारी मामलों के मुकदमें दर्ज हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.