दैनिक जागरण की खबर का उच्च शिक्षा सचिव ने लिया संज्ञान, छात्रा से दुष्कर्म मामले में अफसराें से तलब की रिपाेर्ट

Higher Education Secretary Seek Pilibhit Student Molestation Report उच्च शिक्षा विभाग के सचिव ने तेवर कड़े करते हुए मामले की सच्चाई उजागर होने पर आरोपित पर विभागीय कार्रवाई की संस्तुति करने के आदेश दिए हैं। सचिव के एक्शन मोड में आते ही खलबली मच गई है।

Ravi MishraWed, 24 Nov 2021 01:56 PM (IST)
दैनिक जागरण की खबर का उच्च शिक्षा सचिव ने लिया संज्ञान

बरेली, जेएनएन। Higher Education Secretary Seek Pilibhit Student Molestation Report : प्रदेश के उच्चशिक्षा विभाग के सचिव शमीम अहमद खान ने शहर के एक महाविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर कामरान आलम खान के खिलाफ छात्रा से दुष्कर्म किए जाने के मामले पर दैनिक जागरण की प्रसारित खबर का संज्ञान लेते हुए अधीनस्थ अधिकारियों से रिपोर्ट तलब की है। साथ ही मामले में नाराजगी जाहिर करते हुए उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। उच्च शिक्षा विभाग के सचिव ने तेवर कड़े करते हुए मामले की सच्चाई उजागर होने पर आरोपित पर विभागीय कार्रवाई की संस्तुति करने के आदेश दिए हैं। उच्च शिक्षा विभाग के सचिव के एक्शन मोड में आते ही खलबली मच गई है।

महाविद्यालय में अध्ययनरत बीएससी द्वितीय वर्ष की छात्रा ने गणित के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. कामरान आलम के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें आरोपित की पत्नी तथा महाविद्यालय के कार्यवाहक प्राचार्य और कुछ छात्राओं पर सैक्स रैकेट चलाने और उसमें सहयोग करने का गंभीर आरोप लगाया गया था। दैनिक जागरण ने मंगलवार के अंक में छात्राओं के साथ हो रहे अनैतिक कार्य को प्रमुखता से प्रकाशित किया।

खबर का संज्ञान लेकर उच्च शिक्षा विभाग के सचिव शमीम अहमद खान ने पूरे मामले पर रिपोर्ट तलब की है। सचिव ने मामले में जिलाधिकारी व विभागीय क्षेत्रीय अधिकारी को पत्र भेजकर रिपोर्ट मांगी है। इसके साथ ही तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। उच्च शिक्षा विभाग के सचिव की ओर से विभागीय कार्रवाई के संकेत दिए गए हैं। संभव है मामले में आरोपित पर शासन स्तर से गाज गिर सकती है।

दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर का संज्ञान लिया है। मामला बेहद गंभीर है। इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पूरे मामले पर रिपोर्ट तलब की गई है। इसमें संलिप्तता मिलने पर विभागीय स्तर पर हरसंभव कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में जिलाधिकारी से भी वार्ता कर जानकारी ली जाएगी। आवश्यक होगा तो शासन स्तर से टीम भेजकर जांच कराएंगे।- शमीम अहमद खान, सचिव, उच्च शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश शासन

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.