Fraud in Bareilly : पांच लाख रुपये में मिल रही थी पुलिस की नौकरी, गवां बैठी तीन लाख, जानिए क्या है पूरा मामला

Bareilly Fraud News एक महिला जालसाज ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर युवती की पुलिस महकमे में नौकरी लगवाने का झांसा दिया। कई लोगों से परिचय कराया। युवती जालसाज के बुने जाल में फंस गई और तीन लाख रुपये गवा बैठी।

Ravi MishraSun, 26 Sep 2021 04:02 PM (IST)
Fraud in Bareilly : पांच लाख रुपये में मिल रही थी पुलिस की नौकरी, गवां बैठी तीन लाख

बरेली, जेएनएन। Fraud in Bareilly : एक महिला जालसाज ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर युवती की पुलिस महकमे में नौकरी लगवाने का झांसा दिया। कई लोगों से परिचय कराया। युवती जालसाज के बुने जाल में फंस गई और तीन लाख रुपये गवा बैठी। मामले में कोर्ट के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने आरोपित वेटू त्रिपाठी, आशा, वंदना, मो. जफर व हरिनाम त्रिपाठी के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है।

कैंट निवासी युवती ने बताया कि बहन की ससुराल के पास किराए पर रहने वाली वेटू त्रिपाठी से पांच साल पहले उसकी मुलाकात हुई थी। मेल-मुलाकात शुरू हुई तो वेटू ने खुद को पुलिसकर्मी बताया। युवती के नौकरी के लिए तैयारी की बात पर कहा कि विभाग में अफसरों से उसकी अच्छी सेटिंग है।

वह आसानी से उसकी पुलिस महकमे में नौकरी लगवा देगी। धीरे-धीरे आरोपित महिला ने युवती को ऐसा झांसे में लिया कि वह उस पर भरोसा कर बैठी। नौकरी के लिए पांच लाख रुपये की मांग रखी गई। तीन लाख एडवांस व दो लाख रुपये नौकरी मिलने के बाद देने की बात कही।

वेटू ने राशि मो. जफर व हरिनाम के खाते में मंगाई। रकम मिलने के बाद छह माह में नियुक्ति पत्र दिये जाने की बात कही। 10 अक्टूबर 2019 को आरोपित वेटू ने अपने ही घर पर तथाकथित अधिकारी हरिनाम त्रिपाठी से मिलाया। आरोप है कि आरोपित ने वहां अश्लीलता की। जैसे-तैसे बचकर वह भागी। रकम वापसी की मांग को आरोपितों को फोन किया तो नंबर बंद मिला। कोर्ट के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.