कोविड वैक्सीन लगवाई है तो शराब से बनाएं दूरी, कोरोना संक्रमण से बचाव को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं

वैक्सीन का खानपान से कोई सीधा ताल्लुक नहीं है।

कोरोना संक्रमण के दौर में वैक्सीन वैक्सीनेशन और वायरस के संबंध में लोगों को मन में सैकड़ों सवाल हैं। दैनिक जागरण के प्रश्न पहर में पाठकों ने वैक्सीन साइंस के राष्ट्रीय समन्वयक रहे जिले के वरिष्ठ पीडियाट्रीशियन डॉ.अतुल अग्रवाल से सवाल कर अपनी शंकाओं का समाधान किया।

Samanvay PandeyThu, 22 Apr 2021 07:40 AM (IST)

बरेली, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के दौर में वैक्सीन, वैक्सीनेशन और वायरस के संबंध में लोगों को मन में सैकड़ों सवाल हैं। दैनिक जागरण के प्रश्न पहर में पाठकों ने वैक्सीन साइंस के राष्ट्रीय समन्वयक रहे जिले के वरिष्ठ पीडियाट्रीशियन डॉ.अतुल अग्रवाल से सवाल कर अपनी शंकाओं का समाधान किया।

प्रश्न : कोविड-19 वैक्सीनेशन के बाद खानपान में क्या सावधानी बरतनी चाहिए?- डॉ.रमेश केसरी, महानगर

उत्तर: वैक्सीन का खानपान से कोई सीधा ताल्लुक नहीं है। क्योंकि वैक्सीन आहार नली से कनेक्ट नहीं है। हां, शराब के सेवन से दूर रहना जरूरी है।

प्रश्न: ब्लड प्रेशर या शुगर की दिक्कत में वैक्सीन लगा सकते हैं क्या?- अनुराग अग्रवाल, मॉडल टाउन

उत्तर: अभी तक ब्लड प्रेशर या शुगर में किसी तरह की दिक्कत सामने नहीं आई है। हां, एहतियातन वैक्सीन लगवाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

प्रश्न: क्या कुछ समय बाद वैक्सीन डोर-टू-डोर भी लगाई जाएगी?- जुगल किशोर सोनकर, नेकपुर

उत्तर: इंजेक्शन के जरिए दी जाने वाली वैक्सीन डोर टू डोर कभी नहीं लगाई जाती हैं। इन्हें डॉक्टर की देखरेख में ही लगाया जाता है।

प्रश्न: माताजी को सात अप्रैल को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। दूसरी डोज कब लगवानी है?- नीरज अग्रवाल, राजेंद्र नगर, डॉ.पंकज द्विवेदी, सैनिक कालोनी व महेंद्र सिंह, कटघर

उत्तर: कोविशील्ड वैक्सीन को छह से आठ हफ्ते में लगवा सकते हैं। वहीं कोवैक्सीन लगी है तो छठे हफ्ते में लगवा सकते हैं।

प्रश्न: विटामिन सी की खुराक से क्या कोरोना संक्रमण होने से रोका जा सकता है?- अंकुर त्रिपाठी, सुभाष नगर

उत्तर: अगर केवल विटामिन-सी के जरिए कोरोना वायरस पर कंट्रोल किया जा सकता, तो अभी तक हो चुका होता। हां, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए संतुलित आहार जरूरी है।

प्रश्न: सांस फूल रही है। क्या जांच करवानी चाहिए?- अलीशेर, शहरवासी

उत्तर: पहले आरटी-पीसीआर जांच करानी चाहिए। इससे संक्रमण की स्थिति पता होगी। अगर जांच निगेटिव आए तो सीटी स्कैन कराएं। अगर कोविड निगेटिव हैं तो किसी विशेषज्ञ से चेक कराएं।

प्रश्न : नए स्ट्रेन से बचाव के क्या तरीके हैं?- कपिल श्रीवास्तव, 100 फुटा रोड

उत्तर : वायरस से बचने के लिए मास्क और शारीरिक दूरी बेहद जरूरी है। इसके अलावा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाला खानपान होना चाहिए।

प्रश्न : मुंह कड़वा-कड़वा रहता है। लेकिन बुखार-खांसी नहीं है। क्या जांच करानी चाहिए?- विष्णु शरण जायसवाल, शहरवासी

उत्तर : कोविड जांच जरूरी है। अधिकांश बीमारी वायरल होती हैं। इसलिए रिस्क नहीं लेना चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.