बरेली के तीन मंजिला मकान में बन रहा था नकली गगन पान मसाला, दो भाई मिलकर चला रहे थे काला धंधा

Fake Pan Masala Factory in Bareilly सेहत के लिए हानिकारक लिखे रैपर वाले नकली पान मसाला बनाने की फैक्ट्री जोगी नवादा में पुलिस ने पकड़ी। जंबो मशीन और लाखों का नकली पान मसाला बरामद करने के बाद पुलिस माफिया नितिन गुप्ता और सचिन गुप्ता को तलाश कर रही है।

Samanvay PandeySat, 25 Sep 2021 10:10 AM (IST)
बरेली के जोगी नवादा के मकान में इसी जंबो मशीन से तैयार किया जा रहा था नकली पान मसाला।

बरेली, जेएनएन। Fake Pan Masala Factory in Bareilly : सेहत के लिए हानिकारक लिखे रैपर वाले नकली पान मसाला बनाने की फैक्ट्री जोगी नवादा में पुलिस ने पकड़ी। जंबो मशीन और लाखों का नकली पान मसाला बरामद करने के बाद पुलिस नकली पान मसाला तैयार करने वाले माफिया नितिन गुप्ता और सचिन गुप्ता को तलाश कर रही है। दोनाें भाइयों ने पांच दिन पहले ही जोगी नवादा में अनिल शर्मा के मकान को किराये पर लेकर जंबो मशीन लगाई थी। देर रात पुलिस ने दोनों भाइयों को पकड़ने के लिए सैनिक कालोनी में उनके घर पर भी छापामारी की। कार्रवाई करते हुए पुलिस ने मकान मालिक को हिरासत में लिया है।

पूरे मामले की शुरुआत गगन पान मसाला के सेल्समैन के पास नकली पान मसाला के पाउच पहुंचने से शुरू हुआ। गगन पान मसाला के बरेली डिस्ट्रिब्यूटर अमित भारद्वाज के मुताबिक बाजार में बिक्री पूरी होने के बावजूद सेल्समैन पूरा माल नहीं उठा रहे थे। चूंकि एक साल पहले भी गगन पान मसाला समेत पान मसाला का नकली माल तैयार करके बाजार में खपाने के रैकेट में नितिन और सचिन के खिलाफ एफआइआर हो चुकी थी। इसलिए उन्होंने एसएसपी रोहित सिंह सजवाण को एक बार फिर नकली माल के बाजार में पहुंचने की जानकारी साझा की।

एसएसपी ने बारादरी थाने के प्रभारी निरीक्षक नीरज मलिक के जरिये जोगी नवादा और संजयनगर में छापामारी करवाई। गगन पान मसाला के अधिकृत डिस्ट्रिब्यूटर की मौजूदगी में बारादरी पुलिस ने जोगी नवादा में शुक्रवार देर रात छापामारी करके जंबो मशीन और लाखों का नकली पान मसाला बरामद किया। इससे पहले 30 सितंबर 2020 को संजयनगर समेत चार जगह पर नकली माल तैयार करने के ठिकाने पर छापामारी हुई थी। बारादरी थाने में सैनिक कालाेनी नितिन गुप्ता और उसके भाई सचिन गुप्ता के खिलाफ एफआइआर हुई थी। दोनो भाई मिलकर ब्रांड पान मसाला , पान मसाला और बीड़ी का नकली माल तैयार करके बरेली समेत आस-पास के बाजार में खपा रहे थे। नितिन को पुलिस नहीं पकड़ सकी थी। जबकि सचिन जेल जाने के बाद जमानत पर बाहर आ चुका है।

पुलिस पहुंचने से पहले एक जंबो मशीन हुई शिफ्टः मुहल्ले के लोगों ने बताया कि पुलिस पहुंचने से पहले कुछ लोगों ने एक लोडर के जरिये इस मकान से एक मशीन को शिफ्ट किया था। बोरों में कुछ ले जाते हुए लोग दिखे थे। जाहिर है कि छापामारी से पहले नकली पान मसाला तैयार करने वाले गिरोह तक सूचना पहुंच चुकी थी। गगन पान मसाला के डिस्ट्रिब्यूटर के मुताबिक इस मकान में अधिक माल होने की सूचना थी, लेकिन बरामदगी कम हो सकी।

हम लालच में आए, इसलिए नितिन को किराये पर दिया मकानः मौके पर बरामद जंबो मशीन एक घंटे में 2720 पैकेट तैयार करती है। इस माल को बरेली से लेकर उत्तरखंड के बाजार में खपाया जा रहा था। पुलिस को देखकर मकान मालिक की पत्नी संजना ने कहा कि हमारा कचरी बनाने का काम था। हम लालच में आ गए, इसलिए नितिन गुप्ता को अपना मकान किराये पर दिया। दुर्गानगर के गोल गेट के पास रहने वाले दिनेश पंडित को साथ लेकर नितिन गुप्ता आया था। उन्होंने कहा कि मसाला पैकेजिंग के लिए आपको हर पाउच पर एक रुपये देंगे। किराया तय नहीं हुआ था। वो अंदर नहीं जाने देते थे। सिर्फ आवाज सुन सकते थे।

सुभाषनगर में भी है नितिन का ठिकानाः पुलिस ने मौके से 100 बोरे नकली पान मसाला जब्त किया है। पुलिस ने अनिल शर्मा के मकान से सटे हुए घर में रहने वाले डा. हरिओम ने बयान दिया कि दो साल से यहां पान मसाला तैयार किया जा रहा था। पुलिस को सुभाषनगर में भी एक घर में नकली पान मसाला तैयार किए जाने का पता चला। वहां भी देर रात छापामारी हो सकती है। बरेली एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि जोगी नवादा में किराये के मकान से हमने नकली पान मसाला तैयार करने का भंडाफोड़ किया है। मकान मालिक को मौके से पकड़ा गया है। असली आरोपितों की तलाश की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.