उद्यमियों ने ठुकराया टैक्सटाइल पार्क की जमीन पर इंडस्ट्रियल हब बनाने का प्रस्ताव, अपर मुख्य सचिव को बताई ये वजह

उद्यमियों ने ठुकराया टैक्सटाइल पार्क की जमीन पर इंडस्ट्रियल हब बनाने का प्रस्ताव, अपर मुख्य सचिव को बताई ये वजह
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 09:22 AM (IST) Author: Ravi Mishra

बरेली, जेएनएन। टैक्सटाइल पार्क की जमीन पर प्राइवेट इंडस्ट्रियल हब बनाने का प्रस्ताव ग्रामोद्योग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने उद्यमियों के सामने रखा। जमीन के कुछ हिस्से पर टैक्सटाइल और बाकी पर दूसरे उद्यम लगाए जा सकते हैं। उद्यमियों ने लिखकर दिया कि कोविड काल में वह निवेश की स्थिति में नहीं है। फिलहाल प्रस्ताव पर सहमति नहीं बन सकी है। एसपीवी (स्पेशल परपज व्हीकल) योजना के तहत प्रस्तावित पार्क को केंद्र सरकार का कपड़ा मंत्रालय भी वित्तीय सहायता कर रहा था।

तकरीबन एक साल पहले शासन में हुई हथकरघा और वस्त्र उद्योग विभाग की समीक्षा बैठक में बरेली के उद्यमियों ने मंदी का हवाला देते हुए उद्यम लगाने से इन्कार किया था। निवेशकों का कहना था कि वस्त्र उद्योग में मंदी का दौर है। बरेली स्थित रहपुरा जागीर क्षेत्र में प्रस्तावित ईको टैक्सटाइल पार्क प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए सड़क निर्माण समेत कई अन्य कार्य भी स्वीकृत हो चुके हैं। साथ ही बिजली विभाग इस प्रोजेक्ट को सप्लाई लाइनें उपलब्ध कराने की तैयारी कर चुका है। रविवार को नवनीत सहगल ने टैक्सटाइल पार्क पर चर्चा के लिए उद्यमियों को बुलाया था। एक बार फिर उद्यमियों ने कोविड काल को वजह बताते हुए हाथ पीछे खींचे हैं।

कपड़ा मंत्री से टैक्सटाइल पार्क पर चर्चा करेंगे केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने टैक्सटाइल पार्क के मुद्दे पर दिल्ली में कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी से चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रोजेक्ट के लेट होने की वजह से कुछ दिक्कतें आ रही है। बरेली के महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर अब सोमवार को कपड़ा मंत्री से दिल्ली पहुंचने के बाद वार्ता होगी।

उद्यमियों से चर्चा हुई है कि टैक्सटाइल पार्क की जमीन पर निजी प्राइवेट इंडस्ट्री हब बनाने के लिए चर्चा हुई है। उद्यमी विचार करके बताएंगे। - नवनीत सहगल, नोडल अधिकारी

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.