Dry Fruits Price News : बरेली में बढ़े ईरान से आने वाले पिस्ता के दाम, जानिए अफगानिस्तान के अंजीर सहित अन्य सूखे मेवे के दाम

Dry Fruits Price News कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही यूं तो सभी तरह के सूखे मेवे बिके हैं लेकिन सबसे ज्यादा मांग अंजीर मुनक्का के साथ पिस्ता की हुई है। बरेली में अंजीर मुनक्का अफगानिस्तान का दिल्ली के बाजारों से आता है।

Ravi MishraMon, 14 Jun 2021 08:07 AM (IST)
Dry Fruits Price News : बरेली में बढ़े ईरान से आने वाले पिस्ता के दाम

बरेली, जेएनएन। Dry Fruits Price News : कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही यूं तो सभी तरह के सूखे मेवे बिके हैं, लेकिन सबसे ज्यादा मांग अंजीर, मुनक्का के साथ पिस्ता की हुई है। बरेली में अंजीर, मुनक्का अफगानिस्तान का दिल्ली के बाजारों से आता है। जबकि पिस्ता ईरान का अच्छी मांग होती है। मेवा कारोबारियों के मुताबिक मेवे की डिमांड तो खूब है, लेकिन उस मुताबिक आवक कम होने के चलते दाम बढ़े हैं। व्यापारियों के मुताबिक अखरोट व बादाम जिसकी आवक दूसरे देशों के साथ ही कश्मीर से भी होती है। इसके चलते इसके दामों में कोई इजाफा नहीं हुआ है।

बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते कई देशों ने आयात निर्यात बंद कर दिया था। जिसका असर अब डिमांड के मुताबिक बाजार पर देखने को मिल रहा है। व्यापारियों ने बताया कि बरेली में ड्राई फ्रूट दिल्ली से आता है, लेकिन दिल्ली में ही माल की कमी होने के चलते दाम में बढ़ोत्तरी हुई है।

ड्राई फ्रूट अब रेट पहले रेट

अंजीर - 800से 1000 - 600 से 800

मुनक्का - 700 से 1000 - 600 से 900

बादाम - 680 - 680

काजू साबूत - 800 से 1000 - 800 से 1000

पिस्ता - 1200 से 1400 रुपये - 1000 से 1200

लौंग - 750 - 600

 

यहां से बरेली में आते हैं सुखे मेवें

अंजीर और मुनक्का अफगानिस्तान से मंगाया जाता है। जबकि छुहारा पाकिस्तान, बादाम कश्मीर, कैलिफोर्निया से आता है। इसी तरह से अखरोट कश्मीर, चिली, कैलिफोर्निया और खजूर सऊदी अरब, ईरान, यूएई से मंगाया जाता है। जबकि मखाना दरभंगा, पूर्णिया से, पिस्ता ईरान से काजू आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल से, किशमिश महाराष्ट्र, अफगानिस्तान और केसर कश्मीर, ईरान, स्पेन से मंगाया जाता है।

मेवों के गुण

काजू : काजू में प्रोटीन, खनिज लवण, लौह, फाइबर, फोलेट, मैग्नीशियम, फास्फोरस, सेलेनियम और तांबा का अच्छा स्रोत है।

पिस्ता : पिस्ता कैलोरी-मुक्त होता है और कोलेस्ट्राल को नियंत्रित करने में भी सहायक होते हैं। इसके अलावा अन्य कई सूक्ष्म पोषक तत्व होते हैं।

अखरोट : अखरोट में वसा, ओमैगा-3 फैटी एसिड, खनिज लवण और लौह पोषक तत्व होते हैं।

बादाम : बादाम में वसा का उच्च स्तर होता है जिसमें 65 प्रतिशत वसा मोनोअनसेचुरेटेड होते हैं जो कोलेस्ट्राल को नियंत्रित करने में उपयोगी हैं।

अंजीर : सूखी अंजीर मोटे लोगों के लिए अच्छा अल्पाहार होता है। इनमें फाइबर और पोटेशियम प्रचुर मात्र में होता है, जो भूख नियंत्रित करता है।

किशमिश : किशमिश में एंथोयायनिन होता है, जो गैस संबंधित रोगों में फायदेमंद है। इसमें उपस्थित एंटीआक्सीडेंट अल्जाइमर में भी लाभदायक है। साथ ही कब्ज आदि में भी इससे लाभ मिलता है।

खजूर : फाइबर और एंटीआक्सीडेंट के अलावा खजूर में कई विटामिन और खनिज होते हैं। खजूर में फाइबर अधिक होता है, जो कब्ज को रोकने और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए फायदेमंद होता है।

कोरोना काल में ड्राई फ्रूट की मांग बढ़ी है। जबकि मांग के मुताबिक दूसरे देशों से आने वाला ड्राई फ्रूट बढ़े दामों में भी कम मिल रहा है। इस बार दिल्ली से माल आने में कोई दिक्कत नहीं हुई है।- संजय आनंद, मेवा कारोबारी

 अंजीर, मुनक्का के साथ ही पिस्ता की अधिक डिमांड है। जिसके पीछे से ही रेट बढ़कर आ रहा हैं। अखरोट व बादाम भी लोग मांग रहे हैं, लेकिन इसकी आपूर्ति भरपूर होने के कारण दाम में बढ़ोत्तरी नहीं हुई है।गुलशन सब्बरवाल, मेवा कारोबारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.