कोविड अस्पताल की खिडकी से कूदकर फरार हुआ कोरोना पॉजिटिव बंदी

कोविड अस्पताल की खिडकी से कूदकर भागा कोरोना पॉजिटिव बंदी
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 01:58 PM (IST) Author: Ravi Mishra

पीलीभीत, जेएनएन।  जिला महिला चिकित्सालय में बने कोविड एल-2 अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव बंदी ड्यूटी पर तैनात पुलिस को चकमा देकर खिड़की से कूदकर फरार हो गया। पुलिस उसकी खोजबीन कर रही है। हालांकि अभी तक उसका कोई सुराग नहीं लगा है।

बदायूं नगर के मुहल्ला जोगीपुरा निवासी न्यायिक अभिरक्षा बंदी शशांक बजाज को पिछले दिनों कोर्ट से जारी वारंट के आधार पर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जिसके बाद कोरोना जांच के लिए उसका सैंपल लिया गया था। जांच कराए जाने पर वह कोरोना पॉजिटिव निकला। जिस पर बंदी को जिला महिला अस्पताल में बने कोविड एल-2 अस्पताल में भर्ती कराया गया।

अस्पताल भवन के द्वितीय तल पर संक्रमित बंदियों को भर्ती किया जाता है। सुुरक्षा के लिए सदर कोतवाली से रोजाना पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाती है। रविवार को सुबह ड्यूूटी कांस्टेबिल उदयपाल सिंह ने फोन पर सदर कोतवाल श्रीकांत द्विवेदी को बंदी के फरार हो जाने की जानकारी दी। इस पर सदर कोतवाल मौके पर पहुंचे। उन्होंने जांच की।

जांच में पाया गया कि शनिवार की रात 11.30 बजे चिकित्सा टीम के राउंड के दौरान बंदी अपने बेड पर मौजूद था। इससे पता चला कि रात्रि 11.30 से रविवार को सुबह 6 बजे के मध्य वह फरार हुआ है। बंदी की सुरक्षा में सिपाही उदयपाल सिंह, मोहम्मद ताहिर तथा रणजीत सिंह की ड्यूटी थी। बंदी के फरार होने के बाद से खलबली मची हुई है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। सदर कोतवाल ने बंदी के फरार होने के मामले में पुलिस अधीक्षक को अपनी रिपोर्ट भेज दी है। जिसमें सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मियों पर विभागीय कार्रवाई किए जाने की संस्तुति की है।

खिड़कियों पर लोहे की जाली लगाने की मांग

जिला महिला अस्पताल में संचालित कोविड एल 2 अस्पताल की खिड़की से कूदकर बंदी के फरार होने की घटना के मद्देनजर सदर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक श्रीकांत द्विवेदी ने जिलाधिकरी को पत्र भेजकर खिड़कियों पर लोहे की जाली लगाने की मांग की है।उनका कहना है कि खिड़कियों पर कांच लगा होने से बंदियों के फरार होने की आशंका बनी रहती है।

पहले भी हो चुके है दो बंदी फरार

शहर में राजकीय ललित हरि आयुर्वेदिक कालेज परिसर में संचालित कोविड अस्पताल से भी विगत माह दो बंदी फरार हो गए थे। जिनमें एक बंदी तो बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र का था। जिसके खिलाफ नाबालिग लड़की को अगवाकर दुष्कर्म करने का मुकदमा दर्ज है। पुलिस उसे दिल्ली से गिरफ्तार कर लाई थी। कोविड अस्पताल से फरार होने के बाद उसकी गिरफ्तारी के लिए 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। हालांकि पुलिस दोनों को दोबारा गिरफ्तार कर चुकी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.