CB Ganj Robbery Case Update : क्राइम ब्रांच कद काठी और भाषा से कर रही बदमाशों की तलाश, स्थानीय बदमाशाें पर शक

CB Ganj Robbery Case Update : क्राइम ब्रांच कद काठी और भाषा से कर रही बदमाशों की तलाश

CB Ganj Robbery Case Update सीबीगंज के पुरनापुर गांव में डकैती के मामले में पुलिस का स्थानीय बदमाशों पर शक गहरा गया है। पीड़ित ने भी भोजीपुरा के रहने वाले दो बदमाशों पर शक जताते हुए नामजद मुकदमा दर्ज कराया है।

Ravi MishraFri, 14 May 2021 05:10 PM (IST)

बरेली, जेएनएन। CB Ganj Robbery Case Update :सीबीगंज के पुरनापुर गांव में डकैती के मामले में पुलिस का स्थानीय बदमाशों पर शक गहरा गया है। पीड़ित ने भी भोजीपुरा के रहने वाले दो बदमाशों पर शक जताते हुए नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने दोनों बदमाशों की खोजबीन शुरू कर दी है लेकिन वह अभी पुलिस के हाथ नहीं लगे है। हालांकि पुलिस को अभी तक पूरे मामले में कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी है। पुलिस नामजद बदमाशों की घटना के दौरान लोकेशन निकालने में जुटी है। वही बदमाशों को दबोचने के लिए क्राइम ब्रांच को भी लगा दिया गया है।

मंगलवार रात आठ की संख्या में असलहों से लैस बदमाशों ने सीबीगंज के पुरनापुर गांव में खुशालीराम व उसके भाई खुशीराम को घर में बंधक बनाकर लूटपाट की थी। बदमाश अपने साथ लाखों का कैश व जेवर समेट के गए थे। पुलिस ने स्वजन की तहरीर पर डकैती समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया था। घटना के राजफाश के लिए कई टीमें लगाई गई है। लेकिन 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। हालांकि पुलिस ने शक के आधार पर कई लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है लेकिन उनसे भी कोई अहम सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है।

कद काठी और भाषा से बदमाशों की तलाश

पुलिस बदमाशों का पता लगाने के लिए पीड़ित से कई बार पूछताछ की। इस दौरान बदमाशों की कद काठी और भाषा के हिसाब से आसपास के जिलों में पुरानी वारदातों में शामिल रहे बदमाशों की तलाश करेगी। पीड़ित से पुलिस बदमाशों की भाषा के बारे में जानकारी ली है। जिससे उनकी बोली भाषा का पता चल सके। जिससे यह पता चल सके कि बदमाश लोकल के थे या बाहर का कोई गैंग आया था।

रास्तों में लगे सीसीटीवी खंगालेगी पुलिस

डकैती में आठ बदमाश किन रास्तों से गांव में दाखिल हुए व किन रास्तो से फरार हुए पुलिस अब इस खोजबीन में लगी हुई है। पुलिस गांव के रास्तों पर पड़ने वाले सीसीटीवी कैमरों की मदद ले रही है हालांकि इंटीरियर में गांव होने के चलते कमरों की संख्या ना के बराबर ही है। फिर भी कुछ जगह कैमरे लगे होने की जानकारी मिली है।

बदमाशों की फोटो डायरी से भी नहीं मिली मदद

पुलिस ने जिले और बाहर के बदमाशो की पूरी एलबम बना रखी है। जिसमें सैकड़ों बदमाशों की फोटो है। मगर फोटो पासपोर्ट साइज है। डकैती डालने वालों को पीड़ित कद काठी से कुछ हद तक पहचान सकते है। लेकिन नाकाब की वजह से चेहरा नहीं, जबकि पासपोर्ट फोटो में सिर्फ चेहरा है।

डकैती के मामले में दो नामजद आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया था।उसी आधार पर आगे की जांच पड़ताल की जा रही है। जल्द ही मामले का राजफास किया जाएगा। धर्मेंद्र सिंह, प्रभारी निरीक्षक सीबीगंज

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.