शिक्षक हत्याकांड की जांच करने फीरोजाबाद पहुंची बरेली पुलिस

शिक्षक हत्याकांड की जांच करने फीरोजाबाद पहुंची बरेली पुलिस

गांधी उद्यान के पास गाड़ी खड़ी करने को लेकर विवाद हो गया। इसमें एक युवक ने ई-रिक्शा चालक की बेल्ट से पिटाई कर दी। मामले में पहले तो कोतवाली पुलिस समझौता कराने में जुटी रही लेकिन वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने पीड़ित ई-रिक्शा चालक की तहरीर पर आरोपित के खिलाफ एनसीआर दर्ज की है।

Publish Date:Tue, 24 Nov 2020 02:41 AM (IST) Author: Jagran

बरेली,जेएनएन: कर्मचारी नगर के रहने वाले शिक्षक अवधेश कुमार सिंह की हत्या के मामले में बरेली पुलिस सोमवार को नारखी पहुंची। वहां शिक्षक के भाई रमेश को लेकर घटनास्थल पर पहुंची।

नारखी के नगला भीतरी गांव निवासी 42 वर्षीय अवधेश कुमार सिंह बरेली के कुंवर ढाकन लाल इंटर कालेज में हिदी के प्रवक्ता थे। पत्नी विनीता और छह वर्षीय अंश के साथ इज्जतनगर स्थित निजी घर में रहते थे। विनीता ने हिस्ट्रीशीटर शेर सिंह उर्फ चीकू (नारखी धोकल) व इसके कुछ साथियों को सुपारी देकर 12 अक्टूबर को पति की हत्या करा दी थी। शव को रातोंरात यहां लाकर नारखी-फरिहा रोड स्थित डोरसा गांव के पास खेत में दबा दिया था। शेर सिंह की गिरफ्तारी के बाद हत्याकांड का राजफाश हुआ था। मामले में बरेली पुलिस विनीता को गिरफ्तार कर चुकी है। विनीता का पिता अनिल, बहन ज्योति, भाई प्रदीप, प्रेमी अमित सिसौदिया उर्फ अंकित व भोला फरार है। इंस्पेक्टर नारखी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि सोमवार को बरेली पुलिस ने मृतक के भाई रमेश चन्द्र और चचेरे भाई मोहित को साथ लेकर उस खेत का मुआयना किया, जहां शिक्षक का शव दबाया गया था। वर्जन

फरार हत्यारोपितों की तलाश में दबिश भी दी गई लेकिन, किसी का कोई सुराग नहीं लग पाया। - केके वर्मा, विवेचक व इंस्पेक्टर इज्ज्तनगर तब्लीगी मामले में डिस्चार्ज अर्जी पर बहस

बरेली, जेएनएन : थाईलैंड व इंडोनेशिया निवासी तब्लीगी जमात के आरोपितों के मामले में सोमवार को सीजेएम कोर्ट में बहस हुई। पिछले दिनों जमात से जुड़े आरोपितों की ओर से डिस्चार्ज अर्जी दी गई थी। अभियोजन अधिकारी अवधेश गुप्ता ने कोर्ट में कहा कि मामले का संज्ञान लिया जा चुका है। आरोपितों को उन्मोचित (आरोपमुक्त) किया जाना न्यायोचित नहीं है। जबकि बचाव पक्ष ने आरोपितों को आरोपमुक्त करने की माग की। कोर्ट ने बिजनौर व मुरादाबाद से जुड़े मामलों में आगामी 26 नवंबर तिथि नियत की है जबकि शाहजहापुर से जुड़े मामले में 27 नवंबर को सुनवाई होगी। गांधी उद्यान पर ई-रिक्शा चालक की बेल्ट से पिटाई, वीडियो वायरल

बरेली, जेएनएन : गांधी उद्यान के पास गाड़ी खड़ी करने को लेकर विवाद हो गया। इसमें एक युवक ने ई-रिक्शा चालक की बेल्ट से पिटाई कर दी। मामले में पहले तो कोतवाली पुलिस समझौता कराने में जुटी रही, लेकिन वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने पीड़ित ई-रिक्शा चालक की तहरीर पर आरोपित के खिलाफ एनसीआर दर्ज की है।

रोहली टोला के रहने वाले पीड़ित ई-रिक्शा चालक ने बताया कि वह गांधी उद्यान पार्क के पास स्थित एक अस्पताल में घर के ही एक व्यक्ति को दिखाने पहुंचे थे। जैसे ही गाड़ी खड़ी की, कटरा चांद के रहने वाले आकाश ने गाड़ी हटाने की बात कही। गाड़ी हटा पाता, इससे पहले ही वह गाली-गलौच करने लगा।बेल्ट से पिटाई शुरू कर दी। पुलिस ने बीच बचाव किया लेकिन, वह नहीं माना।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.