बेटी का जन्मदिन मनाने ढाबे पर आए हिंयुवा के जिलाध्यक्ष ने किया हुक्का-शराब पार्टी का विरोध, विधायक के करीबी ढाबा मालिक ने पीटा

बरेली : ढाबे पर हुक्का-शराब पार्टी के विरोध पर हिंदू युवा वाहिनी के नेता से मारपीट

ढाबे पर चल रही हुक्का व शराब पार्टी के विरोध करने ढाबा मालिक व उसके गुर्गों ने हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष से मारपीट कर डाली। सूचना पर पुलिस भी पहुंची लेकिन ढाबा मालिक पुलिस के सामने भी उनसे गालीगलौज करते रहे और पुलिस मूकदर्शक बनकर देखते रही।

Publish Date:Mon, 25 Jan 2021 06:57 AM (IST) Author: Ravi Mishra

बरेली, जेएनएन। : ढाबे पर चल रही हुक्का व शराब पार्टी के विरोध करने ढाबा मालिक व उसके गुर्गों ने हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष से मारपीट कर डाली। सूचना पर पुलिस भी पहुंची लेकिन ढाबा मालिक पुलिस के सामने भी उनसे गालीगलौज करते रहे और पुलिस मूकदर्शक बनकर देखते रही।

हिंदू युवाा वाहिनी के जिलाध्यक्ष अनुज प्रताप सिंह की बेटी का शनिवार को जन्मदिन था। वह परिवार सहित हाईवे पर ताहताजपुर गाँव के पास बने एक ढाबे पर खाना खाने आए थे। आरोप है़ कि ढाबे के अंदर लड़के-लड़कियां शराब और हुक्का पी रहे थे। उन्होंने विरोध किया और मोबाइल से वीडियो बनाने लगे। आरोप है उसी दौरान ढाबा मालिक आ गए और गाली-गलौज करने लगा।

उनके साथ एक दर्जन करीब गुर्गे थे। सभी ने मिलकर उनसे मारपीट की। उन्होंने अपने स्वजन के साथ पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन आरोपित उनके सामने भी पीड़ित से बदसलूकी करते रहे लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। पीड़ित का आरोप है कि ढाबा मालिक के एक विधायक से संबंध है। जिसके चलते तहरीर देने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई।

पुलिस की शह पर ढाबे बने हुक्का बार, पीड़ित ने कहा चल रही थी रेव पार्टी

बता दें कि हाईवे पर मौजूद ज्यादातर ढाबों पर शाम होते ही शराब और हुक्का पार्टी शुरू हो जाती है। जहां बड़ी संख्या में लड़के-लडकियां जाम छलकाते और हुक्का पीते नजर आते है। आए दिन इन ढाबों पर मारपीट व फायरिंग की घटनाएं होती रही है। पुलिस को पूरे मामले की जानकारी है लेकिन इन ढाबों पर कार्रवाई नहीं होती। वही थाना प्रभारी अशोक कुमार का कहना है कि लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था।

दोनों पक्षों में रुपये के लेनदेन को लेकर मारपीट हुई थी। दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ तहरीर दी लेकिन बाद में समझौता हो गया था। रोहित सिंह सजवाण, एसएसपी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.