Bareilly Coronavirus News : यदि कोरोना संक्रमित मरीज में चिड़चिड़ापन और गुस्सा रहता है तो तुरंत इस नंबर पर कॉल करें, मनोविज्ञानी देंगे परामर्श

मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन नंबर 7248215922 जारी कर दिया है।

Bareilly Coronavirus News जिले में बढ़ते संक्रमण की वजह से लंबे समय से चल रही परेशानी और बदलते स्ट्रेन का शिकार हो रहे मरीजों में चिड़चिड़ापन और ज्यादा गुस्सा आने के केस सामने आ रहे हैं तो मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन नंबर 7248215922 पर करें कॉल मिलेगा लाभ।

Samanvay PandeyTue, 13 Apr 2021 08:43 AM (IST)

बरेली, जेएनएन। Bareilly Coronavirus News : जिले में बढ़ते संक्रमण की वजह से लंबे समय से चल रही परेशानी और बदलते स्ट्रेन का शिकार हो रहे मरीजों में चिड़चिड़ापन और ज्यादा गुस्सा आने के केस सामने आ रहे हैं। ऐसे मरीजों को निश्शुल्क मनोवैज्ञानिक परामर्श देने का फैसला स्वास्थ्य विभाग ने लिया है। इसके लिए मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन नंबर 7248215922 जारी कर दिया है।

कुछ समय पहले कोविड अस्पताल में भर्ती एक मरीज ने अंगोछे की मदद से फंदा लगाकर जान देने की कोशिश की थी। वहीं, पिछले साल बंद कमरे में रखे जाने से नाराज कुछ संक्रमितों ने थालियां सड़क पर फेंककर गुस्सा जाहिर किया था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जिला मानसिक स्वास्थ्य प्रकोष्ठ के प्रभारी डा. आशीष की मदद लेने का फैसला किया है। मन:कक्ष की टीम समय-समय पर संक्रमितों की काउंसिङ्क्षलग करेगी। यही नहीं, डॉक्टरों व स्टाफ नर्स को भी मरीजों के हावभाव पर नजर रखने और उनसे ज्यादा सहज बर्ताव की ट्रेङ्क्षनग दी जाएगी।

कोविड हेल्पलाइन नंबर बिल भुगतान न होने के कारण बंद

टीकाकरण के साथ लोगों को दिए जाने वाले कार्ड (प्रमाणपत्र) पर दर्ज हेल्पलाइन नंबर अभी तक ठीक नहीं हुआ है। जिला कोविड हेल्पलाइन नंबर (0581-2428914) मिलाने पर अब भी 'डायल किया नंबर बिल भुगतान न होने के कारण बंद हैÓ ही बता रहा है। ऐसे में वैक्सीनेशन के बाद होने वाले मामूली असर और प्रतिकूल प्रभाव (एईएफआइ) होने की स्थिति में लोगों को सूचना देने में परेशानी हो रही है। सीएमओ डॉ. एसके गर्ग के मुताबिक कंट्रोल रूम प्रशासन से संचालित होता है। बिल जमा न होने की वजह से सेवा बंद होने की जानकारी संबंधित अधिकारी को दे दी है। जल्द नंबर शुरू होगा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.