हाइटेंशन लाइन से निकली चिंगारी से दो झोपड़ियों में लगी आग, बेटी के दहेज सहित लाखों का माल स्वाहा

हाइटेंशन लाइन से निकली चिंगारी से दो झोपड़ियों में लगी आग, बेटी के दहेज सहित लाखों का माल स्वाहा
Publish Date:Sun, 25 Oct 2020 08:52 AM (IST) Author: Ravi Mishra

बरेली, जेएनएन। बरेली के फतेहगंज पश्चिमी हाइटेंशन लाइन के तार गिरने से निकली चिंगारी से दो झोपड़ियों में आ लग गई। जिससे घर में रखा बेटी के दहेज सहित लाखों का माल जलकर स्वाहा हो गया। हालांकि ग्रामीणों ने काफी देर की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। लेकिन घरों रखा सारा सामान खाक हो गया। अचानक घटी इस घटना से लोगों में बिजली विभाग के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है।

फतेहगंज पश्चिमी के गांव सिरसा जागीर में रहने वाले नत्थू लाल कश्यप मजदूरी करते हैं। देर रात्रि पत्नी और बच्चे घर पर खाना खा रहे थे। उसी समय खंबे पर लटका तार ऊपर से झाेपड़ी पर आकर गिर गया। तारों के गिरते ही उनसे निकली चिंगारी से छप्पर में आ लग गई। कुछ ही देर में आग ने विकराल रुप धारण करते हुए साथ वाली झोपड़ी के छप्पर को भी अपनी चपेट में ले लिया। ये देख ग्रामीणों में अफरा तफरी मच गई। आनन फानन में ग्रामीणों ने झोपड़ियों में लगी आग को बुझाने का प्रयास किया।

काफी देर मश्क्कत के बाद उन्होंने आग को बुझा लिया। लेकिन झाेपड़ी के अंदर बेटी के दहेज के लिए एकत्रित किया गया सामान सहित राशन आदि जलकर खाक हो गया। घटना के बाद दोनों पीड़ितोंं नत्थू लाल व कन्हैया लाल ने अपनी शिकायत लिखित रुप से पुलिस को दी है। दोनों का आरोप है कि बिजली विभाग की लापरवाही से उनके घर में रखा लाखों का माल जल गया। गोरतलब है कि खंभों पर बिजली के तार लटक रहे है। जो आए दिन टूटकर गिरते है। ग्रामीणों का आरोप है कि कई बार बिजली विभाग से शिकायत की गई। लेकिन तारों को नहीं बदला गया।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.