राष्ट्रीय स्तर का पहलवान रहा है आनंद

आनंद नेशल स्तर का खिलाड़ी होने के बाद भ्अपराध में सक्रिय था। एंबुलेंस प्रकरण में पकड़ा गया बाहुबली विधायक मुख्तार अंसार

JagranWed, 16 Jun 2021 11:23 PM (IST)
राष्ट्रीय स्तर का पहलवान रहा है आनंद

निरंकार जायसवाल, बाराबंकी एंबुलेंस प्रकरण में पकड़ा गया बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का गुर्गा आनंद यादव राष्ट्रीय स्तर का पहलवान रहा है। रीढ़ की हड़डी में गंभीर चोट आने के कारण वह इस खेल से अलग हो गया और फिर मुख्तार के संरक्षण में राजनीति से जुड़ गया। इसका मुख्तार के कार्यालय में आना-जाना रहता था। इसके अलावा वह अपने पिता के नाम से स्थापित एक इंटर कालेज का संचालन भी करता था। मऊ के सराय लखनसी थाना के सरवा गांव के बैजनाथ यादव के पुत्र आनंद यादव की भूमिका एंबुलेंस प्रकरण में डा. अलका राय को धमकाने और जबरन हस्ताक्षर कराने की बताई गई है। बुधवार को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचने वाला आनंद कभी दंगल में प्रशंसकों की सराहना बटोरता था। परिवार में आनंद ही नहीं बल्कि उसके भाई व भतीजे अलग-अलग खेलों में दक्ष हैं। इसी दक्षता से परिवार के कई लोगों ने खेल कोटे से रेलवे व अन्य विभाग में सरकारी नौकरी हासिल की है। आनंद भी राष्ट्रीय स्तर का कुश्ती का खिलाड़ी रहा है। दो बार आर्मी में उसका चयन हुआ, लेकिन रेलवे में नौकरी की चाह के चलते उसने नौकरी नहीं की। वर्ष 2002 में गांव के ही अखाड़े में कुश्ती के दौरान उसकी रीढ़ की हड्डी में चोट आ गई थी। इसके बाद वह धीरे-धीरे राजनीति में कदम रखने लगा और मुख्तार अंसारी के बसपा कार्यालय में बैठने लगा। इसी दौरान आनंद के पिता के नाम से इंटर कालेज स्थापित कराया गया और संचालन कर रहा था। एंबुलेंस कांड में उसके डा. अलका को धमकाने के साक्ष्य मिले और उसे जेल जाना पड़ा। उधर, जेल जाने से पहले आनंद से एसआइटी की टीम ने भी पूछताछ की।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.