रिमझिम तो कहीं झमाझम बरसा सावन

जागरण टीम बांदा चित्रकूट बांदा व चित्रकूट में 24 घंटे से बारिश जारी है। मंगलवार की र

JagranWed, 28 Jul 2021 10:38 PM (IST)
रिमझिम तो कहीं झमाझम बरसा सावन

जागरण टीम, बांदा चित्रकूट : बांदा व चित्रकूट में 24 घंटे से बारिश जारी है। मंगलवार की रात में तो तेज बारिश हुई थी लेकिन सुबह से फुहारें पड़ रही है। जिससे मौसम काफी सुहाना है पर लगातार हो रही बारिश से ग्रामीण इलाकों में जल भराव की स्थिति है कच्चे मकान गिरने व घरों में पानी भरने से गरीब खासे परेशान हैं। वहीं खेतों मे पानी भरने से धान रोपाई का कार्य तेज हो गया है। बांदा में 24 घंटे में 32.4 तो वहीं चित्रकूट में 110 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई है।

भीषण गर्मी और उमस से बेहाल जनपदवासियों के सावनी फुहार ने राहत दी है। वैसे जिले में बारिश रविवार से हो रही है लेकिन व्यापक रूप से वर्षा मंगलवार को शाम चार बजे से शुरू हुई है। रात में तो जिले के कई इलाकों में तेज बारिश हुई थी। जबकि सुबह से झरी लगी है। इस बारिश से सबसे अधिक नुकसान मऊ और राजापुर तहसील क्षेत्र में देखने को मिला है।मऊ प्रतिनिधि के मुताबिक तहसील क्षेत्र में मंगलवार से अनवरत वर्षा हो रही है। राजस्व विभाग के सर्वे में 28 कच्चे मकान आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं। जिससे गृह स्वामी बुरी तरह से प्रभावित हैं। ग्राम पंचायत मवई कला में सात, मऊ कस्बे में तीन, ग्राम पंचायत वियावल में तीन, ग्राम पंचायत गोइया कला गोइया खुर्द व खोहर में मिलाकर दस, ग्राम बेलहा मजरा बरियारी कला, खजुरिहा खुर्द व मनकुंवार में एक-एक मकान बारिश में गिर गए हैं।

मानिकपुर में भी गिरे 37 कच्चे मकान

दो दिनों से रुक रुक कर हो रही रिमझिम बरसात व मध्यप्रदेश से जगल में हुई बारिश से बरदहा नदी का जल स्तर बढ़ रहा है। आधा दर्जन गांवों को सतर्क किया गया। राजस्व टीम को लगा दिया गया। तहसीलदार राजेश कुमार यादव ने बताया लगातार बरसात हो रही है। जिससे ग्रामीण इलाकों कच्चे मकान गिर रहे हैं। अभी मडैयन क्षेत्र से दो मकान गिरने की सूचना है। वहीं राजापुर एसडीएम आरके राय ने बताया कि तहसील क्षेत्र 37 मकान बारिश में गिरे हैं। जिसमें तीन मकान पूरी तरह गिर गए हैं। जबकि अन्य को आंशिक नुकसान हुआ है।

---------------------

धान रोपाई के कार्य में आई तेजी

तुलसी कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी डा मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि बीते 24 घंटे में 110 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। जिससे खेतों में अच्छा पानी भर गया है। धान रोपाई के कार्य में तेजी आई है। आगामी दिनों में मध्यम से भारी वर्षा होने और घने बादल छाए रहने की संभावना है। बिजली का चमकना और गर्जना भी हो सकती है। बुधवार को अधिकतम तापमान 28 और न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है। उन्होंने किसान को सलाह दी है कि दलहनी फसलों में जल निकासी की उचित व्यवस्था करें। धान की फसल की रोपाई जल्द से जल्द करें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.